हालात का जायजा लेने बंगाल पहुंची गृह मंत्रालय की 4 सदस्यीय टीम

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद भी हिंसा का दौर जारी है। चुनाव के बाद जारी हिंसा की जांच के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय की चार सदस्यीय एक टीम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुंच गयी है। यह टीम बंगाल में हिंसा के कारणों की जांच करेगी‌। साथ ही यह पता लगायेगी कि इसे रोकने के लिए प्रशासन की ओर से क्या कदम उठाये गये। गृह मंत्रालय की इस टीम की अगुवाई एडीशनल सेक्रेटरी लेवल के एक अधिकारी कर रहे हैं।

हिंसा पर रिपोर्ट नहीं मिली तो सख्त कार्रवाई होगी : जांच टीम

बता दे कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 3 दिन में 2 बार राज्य से रिपोर्ट मांग चुकी है लेकिन ममता बनर्जी की सरकार के अधिकारियों ने एक भी रिपोर्ट नहीं भेजी है। इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्रालय की चार सदस्यीय स्पेशल टीम कोलकाता पहुंच गयी है। यह टीम चुनाव के बाद हिंसा के कारणों की गहन पड़ताल करेगी। इस पर एक समग्र रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को यह टीम सौंपेगी। कल मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद ही जांच टीम की दूसरी चिट्ठी ममता सरकार के पास पहुंच गई थी कि अभी तक बंगाल सरकार द्वारा जांच की पहली चिट्ठी का जवाब क्यों नहीं दिया गया और साथ ही यह भी कहा गया था कि हिंसा पर रिपोर्ट नहीं मिली तो सरकार के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है।

बंगाल में हिंसा का दौर अब भी जारी

इसी बीच पश्चिमी मिदनापुर में केंद्रीय मंत्री वी. मुरलीधरन के काफिले पर हमले की खबर सामने आई है। इस हमले का वीडियो ट्विटर पर डालते हुए उन्होंने कहा है कि तृणमूल के गुंडों ने मेरे काफिले पर हमला कर निजी स्टाफ को चोट पहुंचाया और गाड़ी की खिड़कियां तोड़ दीं। दूसरी तरफ बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा बंगाल दौरे पर हैं और हिंसा में मारे गए बीजेपी कार्यकर्ताओं के परिजनों से मिल रहे हैं।

Leave a Reply