जहां एक तरफ उत्तर प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण,महिला सुरक्षा का दावा कर रही है। वही बलरामपुर जनपद के रेहरा थाना के अंतर्गत तकरीबन आधा दर्जन व्यक्ति  महिला को बहुत बेरहमी से पीट रहे हैं,यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब तेजी से वायरल हो रहा है।

लेकिन यह सब कारनामा 112 के पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में हो रहा है। जहां पर एक पुलिसकर्मी वीडियो में दिखाई दे रहा है, वही इस वीडियो को देखने के बाद यूपी पुलिस पर कई सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं। आखिर जो यूपी सरकार महिला सशक्तिकरण, महिला सुरक्षा का दावा कर रही है। वह धरातल पर दिखाई नहीं दे रहा है।

 

यह मामला बलरामपुर के रेहरा थाना के अंतर्गत अधीन पुर गांव का है। जहां पर महिला का पति, उसका जेठ और उसके अन्य परिजन मिलकर पारिवारिक विवाद में उस महिला से मारपीट रहे है। लेकिन पुलिसकर्मी खड़ा होकर तमाशा देख रहे है। यह वीडियो बलरामपुर में सोशल मीडिया पर खूब तेजी से वायरल हो रहा है।

जब मामला बलरामपुर के एसपी देव रंजन वर्मा के संज्ञान में आया तो रेहरा पुलिस आनन-फानन में व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर चार व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया। वही बलरामपुर एसपी देव रंजन वर्मा ने  तत्काल कार्रवाई करते हुए 112 के पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।