अमर भारती : दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से लोगों में डर और दहशत का माहौल है। इस बीच एक-दूसरे की मदद और इंसानियत की दास्‍तां बयां करती कुछ कहानियां भी प्रकाश में सामने आ रही हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की वरिष्ठ सलाहकार इवांका ट्रंप ने भारतीय स्टार्ट-अप ओयो होटल्स की एक पहल की सराहना की है। इस पहल में कोरोना वायरस महामारी से लड़ाई में मदद के लिए जुटे डॉक्टरों और नर्सों को मुफ्त ठहराने की पेशकश की गई है।

दरअसल, इन दिनों कुछ ऐसे लोग और कंपनियां भी हैं, जो मदद के लिए आगे आ रही हैं। ऐसी ही एक कंपनी भारतीय स्टार्ट-अप ओयो होटल्स है। इवांका ने ओयो होटल्स की इस पहल को ‘परोपकार का प्रभावशाली’ कार्य बताया। उन्होंने ओयो की एक प्रेस विज्ञप्ति को रीट्वीट करते हुए यह टिप्पणी की। रितेश अग्रवाल द्वारा स्थापित ओयो ने कहा कि ‘स्टार्ट-अप ‘अपने होटलों के दरवाजे खोल रहा है और कोरोना वायरस से लड़ाई में मदद कर रहे डॉक्टरों, नर्सों और अन्य चिकित्सा कर्मचारियों को मुफ्त में रहने की पेशकश कर रहा है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की बेटी इवांका ने कहा कि ओयो होटल्स हमारे बेहतरीन चिकित्सा पेशेवरों और अन्य चिकित्सा कर्मचारियों को इस वायरस से लड़ने के लिए मुफ्त में ठहरने की पेशकश कर रहा है। इस तरह के परोपकार के प्रभावशाली कार्य इस राष्ट्र और हमारी दुनिया को बनाए रखने में मदद करते हैं। बता दें कि ओयो की ओर से कहा गया है कि 24 मार्च से अमेरिका के किसी भी ओयो होटल में चिकित्सा कर्मचारियों को मुफ्त रहने की जगह मिलेगी, ताकि वे सो सकें, स्नान कर सकें और अपने को तरोताजा कर सकें।

—-

भरत पांडेय