अमर भारती : मेघालय में सीएए और इनर लाइन परमिट (आईएलपी) पर बैठक के दौरान केएसयू कार्यकर्ताओं और गैर आदिवासियों के बीच झड़प में एक व्यक्ति की मौत के बाद शिलांग शहर के कुछ इलाकों में शनिवार दोपहर को फिर से कर्फ्यू लगा दिया गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। शुक्रवार रात को झड़प के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था जिसे शनिवार सुबह आठ बजे हटा लिया गया था। उन्होंने बताया कि छह जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर प्रतिबंध जारी है।

शिलांग के लुमदिएंज्री और सदर पुलिस थाना अंतर्गत इलाकों में दोपहर को फिर से कर्फ्यू लगा दिया गया। उन्होंने बताया कि संवेदनशील इलाकों में सशस्त्र पुलिस बल की अतिरिक्त कंपनियां तैनात की गई हैं। एक अधिकारी ने बताया कि राज्य में हालात नियंत्रण में हैं और स्थिति पर करीब से नजर रखी जा रही है। बांग्लादेश की सीमा से सटे ईस्ट खासी हिल्स जिले के इचामति इलाके में शुक्रवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में और आईएलपी के समर्थन में।

एक बैठक के दौरान खासी स्टूडेंट्स यूनियन (केएसयू) के कार्यकर्ताओं और गैर आदिवासियों के बीच झड़प हो गई थी।उन्होंने बताया कि छह जिलों ईस्ट जयंतिया हिल्स, वेस्ट जयंतिया हिल्स, ईस्ट खासी हिल्स, री भोई, वेस्ट खासी हिल्स और साऊथ वेस्ट खासी हिल्स में शुक्रवार रात से 48 घंटों के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। अधिकारियों ने बताया कि एसएमएस सेवा को सीमित कर पांच एसएमएस प्रतिदिन कर दिया गया है।