अमर भारती : केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) की लाभार्थी प्रेग्‍नेंट महिलाओं को बड़ा तोहफा दिया है। इसके तहत अब सरकार ईएसआईसी के नेटवर्क से बाहर के अस्पतालों में इलाज कराने वाली लाभार्थी महिलाओं को 50 फीसदी अधिक रकम देगी। दरअसल, सरकार ने प्रेग्‍नेंट महिलाओं को भुगतान किए जाने वाले प्रसूति खर्च को बढ़ाकर 7,500 रुपये करने का निर्णय किया है।

अभी यह 5,000 रुपये है। हालांकि इसका फायदा सिर्फ उन्‍हीं महिलाओं को मिलेगा जो कर्मचारी राज्य बीमा निगम की लाभार्थी हैं। श्रम मंत्री संतोष गंगवार की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह फैसला लिया गया है. यहां बता दें कि जीवन यापन की लागत के लगातार बढ़ने की वजह से प्रेग्‍नेंट महिलाओं के लिए 5,000 रुपये की रकम मामूली लग रही थी। यही वजह है कि सरकार ने इस बढ़ोतरी का ऐलान करते हुए जीवन यापन की लागत का जिक्र किया है।

सरकार के मुताबिक इस तथ्‍य को ध्यान में रख कर फैसला लिया गया हैप्रसूति खर्च उन लाभार्थी महिलाओं को दिया जाता है जो ईएसआईसी नेटवर्क के अस्पताल या औषधि केंद्रों तक पहुंच नहीं होने के चलते अन्य अस्पतालों में मातृत्व सेवाओं का लाभ उठाती हैं। यहां बता दें कि मौजूदा समय में देश भर में ईएसआईसी के 150 से अधिक अस्पताल हैं। इन अस्पतालों में सामान्य से लेकर गंभीर बीमारियों के इलाज की सुविधा उपलब्ध है।