अमर भारती : राजकुमार हैरी और उनकी पत्नी मेगन मर्केल ने मंगलवार को कनाडा में नए सिरे से जीवन शुरू किया और साथ ही समुद्र किनारे अपने आशियाने के निकट की मेगन की तस्वीरें प्रसारित करने को लेकर मीडिया को कानूनी चेतावनी भी दी है। शाही परिवार की सक्रिय सदस्यता से अलग होने के बाद हैरी सोमवार को ब्रिटेन से रवाना होकर वेंकुवर द्वीप पर विक्टोरिया के बाहर एक शानोशौकत वाले घर रह रहीं मेगन के पास पहुंच गए। ड्यूक और डचेज ऑफ ससेक्स ने इस स्थान को अपना अस्थायी ठिकाना बनाया है।

दोनों अपने बेटे आर्ची के साथ क्रिसमस पर छह हफ्ते यहां बिता चुके हैं।उल्लेखनीय है कि हैरी और मेगन ने अपनी इस योजना के ऐलान से पूरे देश को चौंका दिया था कि वे ब्रिटेन और उत्तरी अमेरिका के बीच अपना समय बिताने के लिए खुद को शाही भूमिका से अलग कर रहे हैं। एक अभूतपूर्व बयान जारी कर दंपति ने अपनी मौजूदा भूमिकाओं से पीछे हटने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था कि वे अपने आठ महीने के बेटे आर्ची के साथ ब्रिटेन और उत्तरी अमेरिका में समय बिताने के लिए यह कदम उठा रहे हैं।

हैरी (35) ने मई 2018 में अमेरिकी अभिनेत्री मेगन मर्केल से विवाह किया था और मई 2018 में आर्ची का जन्म हुआ। साल 2019 दोनों के लिए काफी मुश्किल भरा रहा था। उस समय दोनों ने एक टेलीविजन डाक्टयूमेंट्री में अपनी भूमिकाओं पर मीडिया की रिपोर्टो पर नाराजगी जाहिर की थी और ब्रिटिश टेबलायड के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का फैसला किया था। इसके साथ ही पिछले दो साल से दोनों डचेज आफ कैम्ब्रिज केट मिडलटन के जन्मदिन समारोहों में भी शामिल नहीं हुए थे। इससे इन अफवाहों को हवा मिली कि शाही परिवार में राजकुमार विलियम और राजकुमार हैरी यानि दोनों भाइयों में अनबन चल रही है।

मंगलवार को कई अखबारों ने मेगन की तस्वीरें छापी थीं जिनमें उनका बेटा भी नजर आ रहा था। ये तस्वीरें तब ली गई जब मेगन अपने कुत्ते को घुमाने निकली थीं। तस्वीरों को छापने वाले अखबारों को हैरी और मेगन के वकीलों ने कानूनी चेतावनी जारी की थी।ब्रिटेन में ‘दि सन’ और ‘डेली मेल’ अखबारों ने ये तस्वीरें छापी थीं। बीबीसी ने बताया कि वकीलों का दावा है कि ये तस्वीरें झाड़ियों में छिपे फोटोग्राफरों ने ली थी जो पूर्व अभिनेत्री की जासूसी कर रहे थे। बीबसी ने वकीलों के हवाले से कहा कि इसके लिए मेगन ने अनुमति नहीं दी थी।

इसमें फोटोग्राफरों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया गया। यह भी कहा गया कि दंपती कानूनी कार्रवाई करने के लिए तैयार है। वकीलों ने कहा कि उनके घर के बाहर फोटोग्राफरों का जमावड़ा है और वे बड़े लैंस की मदद से उनके नए घर के भीतर की तस्वीरें लेने की कोशिश कर रहे हैं।बकिंगघम पैलेस ने एक बयान में कहा था, “ड्यूक और डचेज ऑफ ससेक्स अपनी एचआरएच उपाधियों का इस्तेमाल नहीं करेंगे क्योंकि अब वे शाही परिवार के कार्यकारी सदस्य नहीं हैं।”पैलेस ने इस बात की पुष्टि की कि दंपति को आधिकारिक सैन्य नियुक्तियों समेत तमाम शाही कर्तव्य छोड़ने होंगे।

पैलेस ने कहा, “वे महारानी का अब आधिकारिक रूप से प्रतिनिधित्व नहीं करेंगे लेकिन ससेक्सेज ने स्पष्ट कर दिया है कि वे जो कुछ भी करेंगे वे महामहिम के मूल्यों को बरकरार रखेगा।” पैलेस ने सुरक्षा व्यवस्थाओं पर और भविष्य में दंपति के लिए इस बिल का भुगतान कौन करेगा, इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। यह दंपति को आर्थिक आजादी देगा जो वे मांग रहे थे और इसका मतलब है कि ब्रिटेन के करदाताओं के पैसे से चलने वाले सोव्रन ग्रांट के हिस्से पर उनकी अब पहुंच नहीं होगी। कुछ खबरों के मुताबिक, दंपति को हैरी के पिता राजकुमार चार्ल्स से “निजी आर्थिक मदद” के तौर पर गुप्त राशि मिलती रहेगी।

दंपति के भविष्य में दर्जे को लेकर अब भी कुछ प्रश्नचिह्न हैं जैसे ब्रिटेन और कनाडा में उनकी कर एवं आव्रजन स्थिति क्या रहेगी। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने मंगलवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने सुरक्षा पर आने वाले खर्च के बारे में महारानी एलिजाबेथ से सीधे बात की है।दरअसल मीडिया में कुछ खबरें आई थीं कि देश ने यह खर्च खुद वहन करने का प्रस्ताव दिया था। ट्रूडो ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘बात चल रही है और अब तक मेरे पास इस बारे में मेरे पास कोई नई जानकारी नहीं है।’’ कनाडा के मीडिया में अनुमान लगाया गया था कि दंपती और उनके बेटे की सुरक्षा पर अनुमानित खर्च 17 कनाडाई डॉलर आएगा।