उत्तर प्रदेश के पुर्व मुख्यमंत्री और राम मंदिर आंदोलन के नायक कल्याण सिंह के जन्मदिन पर हमारे सहयोगी चैनल Expose India ने खास बात-चीत की। प्रस्तुत है इस बात-चीत के मुख्य अंश

प्रश्न – आज 88 साल के आप पूरे हो गए हैं। एक लंबा राजनीतिक सफर रहा इस पर आप क्या कहेंगे?

उत्तर – 87 वर्ष तक मेरे जीवन में मैंने हमेशा से ध्यान रखा है कि कभी भी आदर्शों और सिद्धान्तों के बीच में कभी कोई फर्क ना आए। जन सेवा में पूरा जीवन खपा दिया और यही कारण है कि आज हज़ारों की संख्या में कार्यकर्ता भिन्न-भिन्न जगह से आते हैं। अपनी बधाइयां और शुभकामनाएं देते रहे हैं और वह भी तब जब मैं किसी पद पर नहीं हूं। पद पर रहने वाले व्यक्ति के साथ भीड़ जुड़ती है, मेरे साथ तो बिना पद के ही इतनों की भीड़ है और यही मेरी पूंजी है। यह मेरी पहचान है एक प्रकार से मेरे कार्यों की मेरे कार्यकर्ताओं के दिल में मेरी जगह ही है कि बड़ी संख्यां में यहां आए हैं। अपनी शुभकामनाएं और बधाइयां देते हैं और मैं सबके प्रति आभार प्रकट करता हूँ।

प्रश्न – राम मंदिर आंदोलन मे आपकी बहुत बड़ी भूमिका रही और अब राम मंदिर बनने जा रहा है। आपको कैसा लग रहा है?

उत्तर – राम मंदिर बने यह मेरी पहले दिन से ही कल्पना थी और अब सुप्रीम कोर्ट ने भी राम मंदिर के निर्माण के मार्ग को प्रशस्त कर दिया है। मेरी इच्छा थी कि मेरे जीवन काल में ही राम मंदिर बन जाए, मुझे लगता है कि परमात्मा ने मेरी प्रार्थना सुन ली है और मेरे जीवन काल में ही राम मंदिर का भव्य निर्माण हो जाएगा।

प्रश्न – सीएए को लेकर तमाम विपक्षी दल बीजेपी को घैर रहे हैं। इस पर क्या कहना चाहेंगे?

उत्तर – सीएए कानून देशहित में है और जो लोग इसका विरोध कर रहे हैं वो देश का काम नहीं कर रहे हैं, उन्हें विचार करना चाहिए कि वोट बैंक की राजनीति को छोड़ कर राष्ट्रीय नीति का काम करें और यह कानून राष्ट्र के हित में है।

रिपोर्ट – प्रिया राठौर

इस इंटरव्यू का वीडियो देखने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।