अमर भारती : नागरिकता संशोधन बिल को लेकर पूर्वोत्तर राज्यों में पुरजोर विरोध प्रर्दशन जारी है। प्रर्दशन इतना उग्र हो गया है कि सरकार को इन्टरनेट सेवाएं बंद करनी पड़ी। नागरिकों की सुरक्षा को देखते हुए भारतीय रेलवे ने कई रूठ पर ट्रेनों को रद्द कर दिया है। इसमें गुवाहटी स्थित तिनसुकिय, लामडिंग और रंगिया डिवीजन की सभी लोकल ट्रेनें शामिल हैं।
ट्रेन वापस कब दौड़ेंगी इस पर कोई भी जानकारी नहीं दी गई है। हालांकि यह जरूर कहा गया है कि अगले आदेश तक इस रूट की ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया है। बढ़ते प्रदर्शन की वजह से त्रिपुरा जाने वाली सभी पैसेंजर ट्रेन को कैंसिल कर दिया गया है। इसके अलावा कुछ ट्रेनों के रूट्स छोटे कर दिए गए हैं। दिल्ली और कोलकाता से जाने वाली ट्रेन गुवाहाटी तक ही जा रही हैं। ट्रेनों का गुवाहटी से आगे का परिचालन बंद कर दिया गया है।प्रदर्शन का असर ट्रेनों पर ही नहीं बल्कि हवाई सेवाओं पर भी पड़ा है। विमानन कंपनियों ने राज्य के कई शहरों की उड़ानें कैंसिल कर दी हैं। असम में हालातों को देखते हुए गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ की उड़ानें कैंसिल की गई हैं। गौरतलब है कि संसद से बिल पारित होने के बाद बिल के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस ने लालुंगगांव में गोलियां चलाई। इसमें कुछ लोग कथित तौर पर घायल हो गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने दावा किया कि प्रदर्शकारियों ने पुलिसर्किमयों पर पत्थरबाजी की और ईंटे फेंकी और पुलिस ने जब उन्हें शांत कराने की कोशिश की तो ये लोग वहां से नहीं हटे।