अमर भारती : आज देशभर में नागरिकता संशोधन  कानून को लेकर खुब बवाल हुआ और आम लोगों में इसे लेकर डर बैठ गया है।  कल जब यह बिल लोकसभा में पास हुआ तो इसे केंद्र सरकार की एक और बड़ी सफलता के तौर पर देखा गया, लेकिन विपक्ष ने इसका जमकर विरोध भी किया है।

बताया जा रहा है कि आज दिनभर असम समेत पूर्वोत्तर के सभी राज्यों में बंद ही रही और स्थिति काफी गंभीर हो गई। कई राज्यों में संपर्क करने की जरुरी सेवा बंद कर दी गई है। पूर्वोत्तर में हालात सामान्य से एकदम खराब होते चले गए। इस बीच सुरक्षाकर्मियों ने हालात को काबू किया मगर प्रदर्शनकारी उनसे भिड़ उठे और उसके बाद से ही वहां पर सारा जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है।

अभी कल का दिन भी अहम है क्योकि कल राज्यसभा में यह बिल पेश किया जाएगा और सरकार के लिए इस बिल को वहां से पास कराना बेहद जरुरी है। जबकि इतना सब होने के बाद भी सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं है और इस कानून को हर हाल में हकीकत बना कर रहेगी।

गौरतलब है कि विपक्ष के सभी बड़े नेताओं ने सरकार को चेतावनी दी है और विपक्ष में बैठे दल अपनी तरफ से इस मुद्दे पर एकता दिखा रहे है। अब यह देखना होगा कि अगर यह कानून बन जाता है तो नागरिकता के बिना लोगों का क्या होगा।