अमर भारती : अनाज मंडी की जिस इमारत में भीषण आग लगी थी उसके मालिक रिहान और उसके मैनेजर फुकरान को आज पुलिस ने तीस हजारी कोर्ट में पेश किया। कोर्ट में पुलिस ने इन दोनों की 14 दिन की रिमांड मांगी जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया गया है। जाहिर है कि इतने बड़े हादसे के बाद हर कोई शक के घेरे में है और अब सख्ती से पूछताछ की जा सकती है।

जानकारी के मुताबिक जिस इमारत में रविवार को लगी आग के चलते कई लोगों की जान चली गईं वह 24 घंटे बाद भी धधकती रही। सोमवार सुबह दोबारा बिल्डिंग पर पानी का स्प्रे कराया गया। पानी का छिड़काव करने के लिए सोमवार सुबह चार फायर टेंडर को फिर से बुलाया गया।

हालांकि पानी का छिड़काव होते देख एक बार फिर लोगों में डर बैठ गया था। लोगों ने सोचा कि उसी बिल्डिंग में दोबारा आग लगी गई है, लेकिन बाद में पता चला कि बिल्डिंग के गर्म होने के कारण दोबारा पानी का छिड़काव करवाया जा रहा था।

गौरतलब है कि रविवार तड़के इस बिल्डिंग में आग लगी थी जिसमें 43 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं 50 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। इमारत में काम करने वाले ज्यादातर मजदूर रात में यहीं सो जाते थे। एक-एक कमरे में 10-15 लोग रहा करते थे। दिनभर काम करने के बाद वह थककर जहां जगह मिलती वहीं पर सो जाते थे। अब यह देखना होगा कि इस मामले में आगे किस तरह का कदम उठाया जाता है।