अमर भारती : उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में सेना भर्ती रैली  20 नवंबर से शुरू होगी। इसके लिए 12 जिलों के 88 हजार 328 युवाओं ने रजिस्टेशन कराया है। लेकिन करीब 8 हजार ऐसे अभ्यार्थी भी है, जिन्होंने ज्वाइन इंडियन आर्मी वेबसाइट के माध्यम से कई जनपदों से ऑनलाइन रजिस्टेशन कराया है। इस मामले का खुलासा रिक्रूटिंग ऑफिसर कर्नल समीर सरदाना ने किया।

इसी माह 20 नंवबर से शुरू हो रही सेना भर्ती की तैयारियों को लेकर प्रशासन रूप-रेखा बनाने में जुट गया है। बरेली से आए रिक्रूटिंग ऑफिसर कर्नल समीर सरदाना के साथ सेना भर्ती की व्यवस्थाओं को लेकर डीएम मानवेंद्र सिंह और एसपी डॉ. अनिल कुमार मिश्र ने बैठक की। इस दौरान कर्नल समीर सरदाना ने पीपीटी के माध्यम से अधिकारियों को एक से अधिक जनपदों से रजिस्टेशन कराने वाले युवाओं के बारे में जानकारी दी।

कर्नल ने बताया कि सैन्य भर्ती में 12 जनपदों के कुल 88328 इच्छुक अभ्यार्थियों ने ऑनलाइन पंजीकरण कराया है मगर, करीब 8 हजार ऐसे अभ्यार्थी भी है, जिन्होंने ज्वाइन इंडियन आर्मी वेबसाइट के माध्यम से एक से ज्यादा अन्य कई जनपदों से भी ऑनलाइन रजिस्टेशन कराया है। लेकिन ज्वॉइन इंडियन आर्मी का इस तरह से सॉफ्टवेयर तैयार किया गया है कि अगर कोई भी व्यक्ति एक जिले से अधिक ऑनलाइन पंजीकरण करता है, तो उसका एक ही फॉर्म मान्य होगा।

हालांकि ऐसे कुल लगभग आठ हजार युवाओं के डुप्लीकेट पंजीकरण हुए है। जिन्हें 29 नवंबर को एक ही एडमिट कार्ड दिया जाएगा। उन्होंने किसी जगह का भी फॉर्म भरा हो। अगर वो पास हो जाता है तो उसके शैक्षिक प्रमाण पत्रों की स्क्रूटनी अलग से की जाएगी। वहीं जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने डीआइओएस को मौके पर अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्रों का सत्यापन के लिए कर्मठ कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए हैं। फर्जीबाड़ा करने बाले अभ्यार्थियों पर सेना समेत जिले के अधिकारी पूरी तरह से नजर बनाए हुए है बही इस मामले के खुलासे के बाद पता चला है की सेना की आनलाइन प्रक्रिया में बड़े पैमाने पर युवा मात देने की फिराक में लगे हुए है।