अमर भारती : जासूसी के बचने के लिए आर्मी मुख्यालय से विशेष निर्देश जारी हुआ। करीब 12 लाख आर्मी के जवानों और अधिकारियों को एक विशेष निर्देश जारी करते हुए उनलोगों को सतर्क किया गया है। जासूसी से बचने के लिए अपने स्मार्ट मोबाइल फोन पर कोई भी आधिकारिक कार्य यानी कोई भी ऑफिसियल कम्युनिकेशन नहीं करने का निर्देश दिया गया है। अपने स्मार्ट फोन से फेसबुक को तत्काल प्रभाव से निष्क्रिय करने का आदेश दिया गया है।

आर्मी के सूत्रों के मुताबिक हाल में ही इजरायल की एक जासूसी मोबाइल एप्लीकेशन द्वारा कई भारतीयों की जासूसी मामले के बाद ये निर्देश लिया गया है। सरहद वाले लोकेशन जैसे जम्मू कश्मीर , पंजाब , नार्थ ईस्ट जैसे लोकेशन  पर कार्य करने वाले जवानों और अधिकारियों को अपने मोबाइल के सेटिंग्स में जाकर लोकेशन के ऑप्शन को बंद करने का भी निर्देश जारी हुआ है।

सेना से जुड़ी कोई भी जानकारी को लीक होने से बचाने के लिए और सतर्कता के मद्देनजर ये निर्देश जारी हुआ है। जवानों को स्मार्ट फोन पर किसी भी तरह का ऑफिसियल डेटा लोड नहीं करने और जीमेल नहीं खोलने की भी हिदायत दी गयी है । सूत्रों के मुताबिक जासूसी करने वाले आपके स्मार्ट फोन पर कोई अनजाना लिंक और बग आपके व्हाट्सएप पर भेजकर अपने जाल में फंसाते हैं। कई बार सोशल मीडिया के मार्फत हनी ट्रैप को भी ये जासूस अंजाम देते हैं।