अमर भारती : स्वतंत्र भारत के उप-प्रधानमंत्री और गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की आज 31 अक्टूबर को 144वीं जयंती मनाई गई। देश की आजादी में सरदार पटेल ने खास योगदान दिया था। आजादी से पहले हमारा देश छोटे-छोटे 562 देशी रियासतों में बंटा था। वे सरदार पटेल ही थे जो इन छोटे रियासतों का विलय करवा भारत को एकता के सुत्र में पिरोया था। इस काम को करना कोई आसान काम नहीं था। सरदार पटेल को इस काम को करने में काफी चुनौतियों का सामना भी करना पड़ा।

उन्होंने एक के बाद एक रियासत को एक साथ लाने के लिए अपनी सारी बुद्धि और अनुभव का इस्तेमाल किया। भारत को एक राष्ट्र बनाने में वल्लभ भाई पटेल की खास भूमिका है। इसी तर्ज पर उन्हें याद करते हुए आज जनपद के नवाब टैंक में ऑक्सीजन पार्क का उद्घाटन किया गया। इसके अलावा एकता उत्सव दी मनाया गया। इस उत्सव में भांति भांति प्रकार की दुकाने सजाकर लोगों को अपने प्रति आकर्षित करने का भी काम किया गया है। इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रभारी मंत्री व जनपद के जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

आपको बता दें कि जिस तरह से पूरे देश में लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल का जन्म दिवस बड़े ही धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। उसी तर्ज पर आज बांदा में भी सरदार वल्लभभाई पटेल का जन्म दिवस कुछ बुंदेली अंदाज में मनाया गया। बाँदा के जिला अधिकारी हीरालाल के द्वारा इस कार्यक्रम का आयोजन शहर में स्थित नवाब टैंक मैं किया गया है। जहां एक ऑक्सीजन पार्क का निर्माण भी कराया गया है। इसके साथ साथ ही नवाब टैंक परी क्षेत्र में जिलाधिकारी के निर्देशों पर जनपद के समस्त विभागों के द्वारा स्टॉल लगाए गए हैं।

उन स्टॉलों के द्वारा प्रदेश सरकार की चलाई जा रही। योजनाओं के बारे में लोगों को जानकारी देते हुए जागरूक करने का काम भी किया जा रहा है। इतना ही नहीं उस कार्यक्रम में बुंदेली दीवारी नृत्य व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया है। इसके अलावा लोगों के आकर्षण का केंद्र हॉट बैलून का भी इंतजाम किया गया है। जिसके जरिए अधिकारी व वहां पर आने वाले लोगों के द्वारा हवा में भी सैर कर सकने का मौका मिल सकेगा।

वहीं जब कार्यक्रम में उपस्थित उत्तर प्रदेश सरकार के प्रभारी मंत्री लाखन सिंह से इस विषय में चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि जिस तरह से पूरे देश में सरदार वल्लभभाई पटेल का जन्म उत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है। इसी तर्ज पर बाँदा में भी आज बड़े ही धूमधाम और भव्य तरीके से सरदार वल्लभभाई पटेल का जन्म दिवस मनाया गया। इस कार्यक्रम में मुझे आमंत्रित किया गया यह मेरा सौभाग्य है।