अमर भारती : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज आचार्य नरेंद्र देव की जयंती मनाई। आपको बता दें कि अखिलेश यादव गोमती तट पर स्थित आचार्य नरेंद्र देव स्मृति स्थल पहुंचे। जहां पर उन्होंने आचार्य नरेंद्र देव की फोटो पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

इसके बाद अखिलेश यादव ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए आचार्य नरेंद्र देव को याद किया और कहा कि आचार्य नरेंद्र देव ने देश की आजादी में एक अहम भूमिका निभाई और समाज को आगे बढ़ाने के लिए हमेशा तत्पर रहे अखिलेश यादव का कहना था। कि आचार्य नरेंद्र देव की जो सिद्धांत है समाजवादी पार्टी उन सिद्धांतों को आगे बढ़ा रही है। और आचार्य नरेंद्र देव के सुद्रण  और एक सामान समाज के सपने को पूरा करने का काम समाजवादी करेंगे।

क्योंकि मौका सरदार पटेल की जयंती का भी था तो इस मौके पर अखिलेश यादव ने सरदार पटेल के सिद्धांतों को याद किया। साथ ही साथ उन्होंने r.s.s. पर हमला बोलते हुए कहा कि सरदार पटेल ने आरएसएस की विचारधारा पर रोक लगाई थी।  आज फिर ऐसे ही सरदार पटेल की इस देश को जरूरत है। जो इस तरह की विचारधारा पर पाबंदी लगा सके सपा सुप्रीमो का कहना था। कि आज की नई पीढ़ी को सरदार पटेल और आचार्य नरेंद्र देव के विचारों को अपनाना चाहिए।

क्योंकि ऐसे ही विचारों पर चलने से हमारा देश मजबूत होगा। कश्मीर मुद्दे पर यूरोपियन डेलिगेशन के कश्मीर दौरे के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि कश्मीर के लोगों को कैद में रखा गया है। और यूरोपियन डेलिगेशन यही देखने आया था कि वहां की व्यवस्था ठीक है या नहीं अगर वहां की व्यवस्था ठीक है तो वहां पर लगी पाबंदी हटा देनी चाहिए। और इंटरनेट सेवाओं को बहाल कर देना चाहिए। साथ ही  साथ अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश के कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए।

योगी सरकार को आड़े हाथों लिया अखिलेश यादव ने कहा कि पहले तो हम लोग सवाल उठाते थे। कि एक ही जाति के लोगों की हत्याएं हो रही लेकिन अब देखने को मिल रहा है। कि उत्तर प्रदेश में कोई भी सुरक्षित नहीं है अयोध्या में हुए दीपोत्सव पर सवाल उठाते हुए। अखिलेश यादव ने कहा कि 135 करोड़ रुपए फूंक दिए गए। यदि 135 करोड़ की लाइट लगवा दी गई होती तो आने वाले 20 सालों तक दिवाली वैसे ही मनाई जा सकती थी।