अमर भारती : जिले में साध समाज द्वारा संचालित एन एस ट्रस्ट द्वारा गरीब मरीजों के इलाज के लिए आज कैंप का आयोजन किया गया | जिसमें 5600 मरीजों ने पंजीकरण कराया गया है। सभी मरीजों कि मुफ्त में जांच के साथ उनको दवाइयां भी वितरण कराई गई मरीजों के भोजन और चाय का इंतजाम भी ट्रस्ट की तरफ से किया गया था। राकेश साध ने बताया पिछले वर्ष के स्वास्थ्य कैंप में को मरीजों ने पंजीकरण कराया था।

इस वर्ष के पंजीकरण में 20प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है।जिसमें सबसे अधिक मरीज पथरी के आए है।जिनका दिल्ली से आए पांच बढ़े डाक्टरों से इलाज कराया जा रहा है।वहीं डाक्टर रजनी सरीन ने बताया कि मेरा उद्देश्य यह है। कि समाज में मरीज कम हो लेकिन मिलावट और खून की कमी के मरीज बहुत अधिक है। सरकार और जिला प्रसाशन को मिलावट करने वालो के खिलाफ अभियान चलाकर उस पर रोक लगानी चाहिए।

क्योंकि पहले लोग नमक रोटी खाकर स्वस्थ रहते थे। लेकिन वर्तमान में कई प्रकार के प्रदूषण समाज में फैल हुए है। साथ साफ सुथरा भोजन भी नहीं मिल पा रहा है। उसी वजह से शरीर में खून की कमी होती जा रही है। इस मौके पर स्कूल के बच्चो के साथ पूर्व सैनिकों व जिले के सभी डाक्टरों ने इस स्वास्थ्य कैंप में प्रतिभाग किया है। सबसे अधिक सहयोग अमर साध , चमकेश साध, मधू साध, रंजना साध, प्रिया साध, नम्रता साध, यश साध, रतन मणि साध, सुनीता साध, सविंद्र साध, सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।