अमर भारती : गाजियाबाद के मसूरी थाना पुलिस ने किसान के साथ हुई करोड़ों रूपए की धोखाधड़ी के आरोप में एक और जालसाज को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की  है। पुलिस इस मामले में तत्कालीन बैंक मैनेजर, सहायक मैनेजर सहित चार लोगों को पहले ही जेल भेज चुकी है।

मसूरी थाना प्रभारी नरेश कुमार सिंह ने बताया कि करीब चार माह पूर्व कल्लूगढी गांव के रहने वाले किसान तैयब पुत्र रोजदार ने थाना मसूरी में यूनियन बैंक के अपने खाते से एक करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी कर निकालने के मामले में मुकदमा दर्ज कराया गया था। किसान तैयब  के डासना ब्रांच यूनियन बैंक खाते से फर्जी आईडी लगाकर बैंक से एटीएम बनवा कर एक करोड़ 13 लाख 83 हजार आठ सौ रुपए  एटीएम द्वारा निकाल लिए गए थे। इस पूरे मामले में किसान की तहरीर के आधार पर  मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने मामले में बड़े ही चौंकाने वाले खुलासे करते हुए  तत्कालीन बैंक मैनेजर व सहायक मैनेजर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। साथ ही पूरी कहानी व धोखाधड़ी की ताना-बाना बुनने वाले दो अन्य युवकों को भी गिरफ्तार किया गया था।

चारों के कब्जे से पुलिस ने 7 लाख 95 हजार रुपए नकद भी बरामद किए थे। वहीं इस मामले में दो शातिर जाल साज फरार चल रहे थे। पुलिस ने सोमवार को फरार चल रहे एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार जालसाज का नाम अंकुर कुमार पुत्र स्वर्गीय सुभाष निवासी मेरठ  है। एक अन्य आरोपी अभी फरार हैं। जिसको जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

रिपोर्ट-यशपाल कसाना