अमर भारती : बाँदा जिले में रोज की भांति मंडल कारागार में बंद कैदियों से मुलाकात करने आने वाले मुलाकातियों के साथ बड़ी सख्ती से पेश आ कर उनकी तलाशी करते हुए कड़ी सुरक्षा में ले जाकर कैदियों से मुलाकात कराई जाती है। इसी तर्ज पर आज भी कैदियों से मुलाकात का सिलसिला जारी था उसी दौरान तिंदवारा गांव का रहने वाला एक मुलाकाती जब अपने कैदी रिश्तेदार से मिलने के लिए जेल के अंदर जा रहा था। तभी तलाशी के दौरान उसके पास से एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ जेल प्रशासन की सजगता के चलते आज जेल के अंदर बड़ी अनहोनी होने से बच गई जेल अधीक्षक आर के सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए। तत्काल शहर कोतवाली फोन कर पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर उस व्यक्ति को हिरासत में ले लिया और अग्रिम कार्यवाही करने में जुट गई।

आपको बता दें कि मामला बांदा जनपद के मंडल कारागार का है। जहां आज जेल के सुरक्षाकर्मियों के द्वारा जेल के अंदर एक बड़ी अनहोनी होने से बचा ली गई। आपको बताते चलें कि बाँदा मंडल कारागार का निर्माण सन 1860 को हुआ था। बाँदा मंडल कारागार यूपी के सभी कारागार ओं में लगभग सबसे पुराना है। इस कारागार मैं 600 कैदियों को रखने की व्यवस्था है लेकिन इसके बाद भी इस कारागार में लगभग 850 से ऊपर कैदी बंद है। इन कैदियों में कुछ कैदी इतने खूंखार है कि दूसरे जनपदों से लाकर यहां उन्हें रखा गया है। आपको एक हैरान करने वाली बात और बताते हैं बात यह है कि इन 850 कैदियों की सुरक्षा व्यवस्था महज 21 बंदी रक्षकों के ऊपर ही है जेल में  रहने वाले इन कैदियों की सुरक्षा और व्यवस्था के लिए पूरे जेल परिसर में अंदर से लेकर बाहर तक कैदियों के हर बैरिक में 11 सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है। जिसकी मदद से उनकी देखरेख की जाती है।

जैसा कि आप सब लोग जानते हैं कि जेल में बंद कैदियों से मुलाकात करने के लिए उनके परिजन दिन प्रतिदिन जेल आते रहते हैं। उन्हें भी जेल के बंदी रक्षकों के द्वारा काफी कड़ी सुरक्षा के साथ जगह-जगह तलाशी वह मुहर लगने के बाद पर्ची काटी जाती है। उसके उपरांत ही उन्हें अपने कैदी रिश्तेदारों से मिलने की इजाजत मिलती है। इतना ही नहीं जब कैदियों के रिश्तेदार उनसे मिलते हैं तो उनके पास भी पूरी कड़ी सुरक्षा के साथ मुलाकात कराई जाती है। इसी के चलते आज एक जेल में बंद कैदी का परिजन उस से मुलाकात करने आया हुआ था। सभी जब वह मंडल कारागार के अंदर प्रवेश किया तो उसके साथ सख्ती से पेश आ कर उसकी तलाशी ली गई। जिसमें तलाशी के दौरान उसकी जेब से एक तमंचे का जिंदा कारतूस बरामद किया गया। पुलिस ने बड़ी सूझबूझ के साथ तत्काल उसे हिरासत में ले लिया और शहर कोतवाली पुलिस को इस पूरे मामले की जानकारी दे डाली जानकारी मिलते ही तत्काल शहर कोतवाली की पुलिस पूरे लाव लश्कर के साथ मंडल कारागार पहुंच गई और व्यक्ति को हिरासत में लेते हुए अग्रिम कार्यवाही शुरू कर दी।