करवाचौथ पर पत्नी के वियोग में युवक ने लगाई फांसी, एक तरफ चंद्र दर्शन तो दूसरी तरफ यमराज दर्शन

अमर भारती : अलीगंज में करवा चौथ की रात जहां चांद देख कर पत्नि‍यों ने अपने पति की पूजा की और उसकी लंबी उम्र की दुआ मांगी, वहीं दूसरी तरफ  कोतवाली अलीगंज के ग्राम अमरोली रतनपुर निवासी विद्याराम पुत्र कालेवर 22 वर्षीय ने अपनी पत्नी को बुलाने के लाख प्रयास किए फिर भी करवा चौथ खिलाने के लिए उसकी पत्नी नहीं आई इस वियोग में पति ने कमरे में बंद होकर फांसी लगा ली

विद्याराम की शादी सात माह पूर्व पूनम पुत्री वीरेंद्र निवासी भक्सा कायमगंज से हुई थी। शादी के बाद एक माह तक पूनम अपने ससुराल में रही, उसके बाद अपने मायके चली गयी। जब विद्याराम करवा चौथ पर अपनी पत्नी को बुलाने उसके मायके गया तो उसकी पत्नी ने आने से इनकार कर दिया। विद्या राम ने लाख प्रयास किए कसम भी दी अगर तू ना आई तो मेरा मरा मुंह देखेगी ।

जहां चांद ने दिए दर्शन युवक ने दी जान

सूत्रों द्वारा पता चला कि विद्याराम बात करते करते वह कमरे में चला गया और चंद्र दर्शन होने पर विद्याराम ने फांसी लगा ली। घर से बाहर बैठे परिजनों ने जब देखा कि कमरे से कोई आवाज नहीं आ रही है। तो घर की तरफ दौड़े और दरबाजे को तोड़ कर अंदर जाकर देखा तो विद्याराम को मृत पाया। परिवारीजनों मे कोहराम मच गया। जब यह सूचना विद्याराम के ससुराली जनों को मिली। तो युवक के ससुराली जन अमरोली रतनपुर आ गए। वहीं विद्याराम के ससुर विद्या राम की बहन के थपड मारते हुए आरोप लगाया की तुम सभी लोगों ने मिलकर इस की जान ले ली। अलीगंज कोतवाली पुलिस को सूचना दी मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

क्षेत्राधिकारी अजय भदोरिया का का कहना है कि शव को कब्जे में ले कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।