अमर भारती : भारत के उत्तर में बसा हरियाणा राज्य। जो 1 नवंबर 1966 को पंजाब से विभाजन होने को बाद भारतीय गणतंत्र में अलग राज्य के रुप में हिस्सा बना, और देश के अस्तीत्व में आ गया। जहां के प्रती व्यक्ति आय के हिसाब से इसको देश के दूसरे सबसे धनी राज्यों में से गिना जाता है। जिसकी राजधानी चण्डीगडढ़ है। किन्तु हरियाणा एक सांस्कृतिक रुप से प्राचीनतम समय से मौजूद है। जिसके वैदिक साक्ष्य भी मिलते रहे है। यह आदि काल से भारतीय सभ्यता और संस्कृति का धुरी रहा है।

हरियाणा एक वैदिक स्थान होने के साथ-साथ सिंध्दु घाटी और मोहनजोदड़ो जैसी सभ्यताओं का मुख्य स्थान है। इसी वजह से यह एक एतिहासिक कुल का राज्य होने के साथ-साथ बहुत सी एतिहासिक मान्यताओं का प्रतीक माना गया है। जहां पर देश कि कई बड़ी निर्णायक लड़ाईया लड़ी गई हैं। हिन्दू भागवत गीता का वादन कहता है की यही पर महाभारत काल की लड़ाईया कुरुक्षेत्र जैसी रणभूमी में लड़ी गई।

कुरुक्षेत्र जिसे हम इतिहास में आर्यवर्त के नाम से भी जानते थे। हरियाणा कि मिट्टी मुगलो द्वारा किए गए बार-बार आक्रमण से मारे गए लोगो की रक्त से लाल होते रहें। जिसमें पानीपत की लड़ाई भी शामिल है। जहां पर वीर माराठा पेशवा बाजीराव द्वारा लम्बे समय से जुल्म ढाते और भारत पर आक्रमण करने वाले मुगलो को धूल चटा कर देश से बापर खदेड दिया था। जिसके परिणामस्वरुप यह एक एतिहासिक युध्द स्थली भी है।

 सबसे आगे हरियाणा                

हरियाणा राज्य से देश के सबसे ज्यादा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाडी निकलते है। और देश के विभिन्न-विभिन्न श्रेणीयों में खेल कर देश का सर ऊँचा करते चले आ रहे हैं, और विदेशो में भी भारत देश के लिए जीत का पर्चम लहरा रहें हैं। इस राज्य से देश के लिए सबसे ज्यादा वीर सपूत भी निकलते आ रहे हैं। जिन्होनें अपने पराक्रम के दम पर दुश्मन देश को कई बार दाँत खट्टे कर दिए। अपने जाबांजी पराक्रम का लोहा मनवाते हुए। कई बार युध्द के क्षेत्र में देश के लिए बार्डर पर तैनात होकर के अपने जान कि बाजी खेल कर देश सेवा में वीर गती को प्राप्त होते रहें।

क्या हैं हरियाणा कि सफलता का राज

हरियाणा एक बहुत तीव्र गती से विकास की ओर अग्रसर राज्य है। इसका एक यह भी कारण माना जाता है की इसकी सीमाएं देश की राजधानी दिल्ली को तीन तरफ से कवर करता है। जिसके कारण दिल्ली जैसे केन्द्र शासीत प्रदेश में आने वाली बड़ी-बड़ी मेन्युफेक्चरिंग कम्पनियां सिफ्ट होकर के हरियाणा जैसे राज्यों का रुख कर लेती है। जिसकी वजह से यह देश का मेन्यूफेक्चरिंग हब बन कर देश के लिए कार्य कर रहा है। जिसके चलते लोगो के पास के रोजगार माध्यम मौजूद है। फिलहाल हरियाणा में खट्टर सरकार का राज है।

रिपोर्ट-प्रशांत