अमर भारती : कानपुर-दिल्ली से लेकर हावडा तक का सफर अब 24 घंटे में पूरा हो सकेगा लेकिन इसके लिए अभी भी चार वर्ष का इंतजार करना पडेगा। बीते माह सरकार द्वारा 2022-23 तक दिल्ली-हावडा रेलमार्ग के साथ ही कानपुर-लखनऊ रूट पर ट्रेन की गति बढाने को मंजूरी दी जा चुकी है। दिल्ली और हावडा की तरह ही कानपुर से लखनऊ के लिए भी ट्रेने फर्राटा भरेगी। दिल्ली से हावडा के बीच रेलमार्ग की दूरी के बीच पांच राज्य आते है। इस रूट सेक्शन में ट्रेन की अभी स्पीड 130 किमी प्रतिघंटा है और राजधानी एक्सप्रेस नई दिल्ली हावडा इस दूरी को सबसे कम समय में पूरा करती है।

लेकिन इस यात्रा में समय कम लगे इसके लिए सरकार द्वारा इस रूट पर ट्रेनो को गति देने के लिए बीते माह मंजूरी दे दी गयी।  बताया जाता है कि अब महज 24 घंटे में ही इस दूरी को पूरा कर लिया जायेगा अभी राजधानी एक्सप्रेस सबसे कम समय 17 घंटे लेती है वहीं आनंद विहार-सियालदाह एक्सप्रसे 40 घंटा 60 मिनट लेती है। लेकिन गति को बढाकर 160 किमी के लिए सरकार ने मंजूरी दे रही है बताया जाता है कि इस कार्य पर 6685 करोड रूपए की लागत आयेगी और ट्रेनो को गति मिलेगी वहीं अगले चार वर्ष में काम पूरा कर लिया जायेगा। निर्माण में परियोजना के अंतर्गत ट्रैक की घेराबंदी, स्वचालित ट्रेन सुरक्षा प्रणाली, मोबाइल ट्रेन रेडियों कम्युनिकेशन तथा स्वचालित और मशीनी निदानकारी प्रणाली शामिल है।