अमर भारती : रविवार को भारत के स्टार क्यू खिलाड़ी पंकज आडवाणी ने म्यामां के मांडले में ‘150-अप’ प्रारूप में लगातार चौथे आईबीएसएफ विश्व बिलियर्ड्स खिताब अपने नाम कर लिया। बता दें कि यह उनके अब तक के करियर का 22वां विश्व खिताब है जिसमें कि उन्हे जीत मिली है। पिछले छह साल में बिलियर्ड्स के छोटे प्रारूप में यह 34 साल के आडवाणी का यह पांचवां खिताब है।

दरअसल पिछले साल की तरह इस साल भी आडवाणी ने फाइनल में स्थानीय दावेदार नेम थ्वाय ओ के खिलाफ 6-2 से आसान जीत अपने नाम दर्ज की है। आडवाणी ने मुकाबले में अच्छी शुरुआत की और 145, 89 और 127 के ब्रेक के साथ जल्द ही वे 3-0 से आगे निकल गए।

थ्वाय ओ ने 63 और 62 के ब्रेक के साथ अगला फ्रेम जीता। आडवाणी ने इसके बाद 150 के अटूट ब्रेक और 74 के ब्रेक के साथ आसानी से मुकाबला जीत लिया, जिससे थ्वाय ओ में लगातार दूसरे साल रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

बेंगलुरु के आडवाणी से अधिक विश्व क्यू खिताब इस समय तक किसी दूसरे खिलाड़ी के पास नहीं हैं। आडवाणी ने 22वां विश्व खिताब जीतने के बाद कहा कि प्रत्येक बार मैं जब भी विश्व चैम्पियनशिप में हिस्सा लेता हूं तो एक चीज स्पष्ट होती है कि मेरी प्रेरणा में कोई कमी नहीं होती। यह जीत इस बात का सबूत है कि मेरी भूख और मेरे अंदर की आग बरकरार है।

गौरतलब है कि अब आडवाणी को 24 घंटे के भीतर स्नूकर में पकड़ मजबूत करनी होगी, क्योंकि उन्हें आईबीएसएफ विश्व 6 रेड स्नूकर और विश्व टीम स्नूकर चैम्पियनशिप में भाग लेना है।