अमर भारती: दिल्ली के दरियागंज निवासी फरीन कि बच्ची जिकरा मलिक दो सप्ताह पहले घर में बेड से नीचे गिरने की वजह से बच्ची के पैर में फ्रैक्चर हो गया था। जिसके कारण जिकरा का दर्द की वजह से रो-रो कर बुरा हाल था जिसका इलाज कराने पहुची उसकी माँ ने डाँक्टरो को बताया कि जिकरा के पास एक गुड़िया है। जिसे दूध पिलाने की बात कहने पर ही यह दूध पीती है। इस पर डॉक्टर को एक तरकीब सूझी। डॉक्टरों ने बच्ची को दवा या इंजेक्शन देने से पहले उसकी गुड़िया को देने की नकल की और बच्ची मान गई।

लोकनायक अस्पताल में 11 माह की मासूम को इलाज के लिए मनाने के लिए उसकी गुड़िया को भी भर्ती करने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डॉक्टरों की सराहना की है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट किया है और डॉक्टरों को शाबाशी देते हुए छोटी बच्ची को शुभकामनाएं दी है।

केजरीवाल ने ट्वीट  में लिखा है, डॉक्टर हमारी सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली की रीढ़ हैं। लोगों की सेवा के लिए उनकी प्रतिबद्धता को सलाम! केजरीवाल के इस ट्वीट को शुक्रवार दोपहर तक 4 हजार लोगों ने लाइक किया था जबकि 700 लोगों ने रिट्वीट किया था।

लोकनायक अस्पताल के हड्डीरोग ब्लॉक के 16 नंबर बेड पर लेटी बच्ची के दोनों पैरों पर कूल्हे तक पट्टी बंधी है। उसके दोनों पैरों को पट्टी के सहारे ऊपर लटकाया गया है ताकि हड्डी को जोड़ने में आसानी हो सके। बच्ची के पास ही उसकी गुड़िया लेटी है, उसके भी दोनों पैरों पर पट्टियां बंधी हैं। बच्ची दरियागंज निवासी फरीन की है। वह दो सप्ताह पहले उसे लेकर अस्पताल पहुंची थीं। घर पर बेड से नीचे गिरने की वजह से बच्ची के पैर में फ्रैक्चर हो गया था।

लोकनायक अस्पताल के डॉक्टर अजय ने बताया कि बच्ची जिकरा मलिक दर्द से कराह रही थी और लगातार रो रही थी। डॉक्टर ने बच्ची को भर्ती रखने के लिए गुड़िया को भी उसी बेड पर भर्ती कर लिया। साथ ही जिकरा की ही तरह उसकी गुड़िया के पैरों पर भी पट्टी बांध दी। जिकरा अस्पताल के बेड पर लेटी हुई गुड़िया से खेलती रहती है। जिकरा की मां फरीन ने बताया कि यह गुड़िया उसकी नानी ने उपहार में दी थी।

रिपोर्ट-शिवनन्दन सिंह