अमर भारती : सिकंदराराऊ में एक तरफ प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शौचालय बनाने के लिए करोडों रूपये पानी की तरह बहा रहे हैं लेकिन वहीं सरकार के नुमाइंदे इस योजना के नाम पर अपनी जेब भरने का काम कर रहे हैं।
  ग्राम प्रधान व पंचायत सेक्टरी सिकंदराराऊ ब्लाक और हसायन ब्लाक में आये दिन भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे है लेकिन फिर भी सुधरने का नाम नहीं ले रहे वहीँ गरीब आदमी से ठेकेदार शौचालय बनवाने के नाम पर तो कहीं पेंशन के नाम पर सौ रू की अवैध वसूली कर रहें है । लोगों का कहना है कि अब इससे यही लगता है कि गरीब परिवार का शोषण कराने में इन्हीं का हाथ है।
  आपको बता दें कि ऐसा ही मामला ब्लाक के गांव पिपलगवां में आया जहॉ दर्जनो लोग इकट्ठे होकर तहसील परिसर मे जिलाधिकारी से शिकायत करने पहुंचे जिसमें आरोप लगाया है कि गांव के 83 लोगों का शौचालय बना ही  नहीं है। लेकिन  ग्राम प्रधान और सेकेट्री ने मिलकर के 83 लोगों के खाते  से पूरा पैसा निकाल लिया और शौचालय आज तक नही बने। वहीं जिलाधिकारी ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए मामले की जांच करवाने की बात कही है।