अमर भारती: देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के खाताधारकों के लिए बड़ी खबर है। बैंक जल्द ही अपने एटीएम कार्ड को बंद करने जा रहा है। SBI के करोड़ों खाताधारकों को बैंक के इस फैसले से झटका लगने वाला है। एसबीआई ने प्लास्टिक डेबिट कार्ड बंद करने का फैसला कर लिया हैं। एसबीईआई बैंक की योजना एटीएम कार्ड बंद कर डिजिटल पेमेंट सेवा को बढ़ावा देने की है। इसी योजना के तहत बैंक 90 करोड़ एटीएम कार्ड को बंद करने की तैयारी कर रहा है।

सूत्रों के अनुसार स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार ने बताया है कि उनकी योजना है कि जल्द ही डेबिट कार्ड को विड्रा करने की है। तय अनुमान के मुताबिक SBI 18 महीनों में अपने सभी 90 करोड़ डेबिट कार्ड को बंद करने की तैयारी कर रहा है। एसबीआई के इस फैसले के बाद SBI खाताधारक एटीएम का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। इसके बाद सिर्फ डिजिटल पेमेंट सर्विस काम करेगी। आपको बता दें कि देश में 90 करोड़ डेबिट कार्ड और 3 करोड़ क्रेडिट कार्ड हैं। एसबीआई का लक्ष्य है कि 18 महीने बाद सभी ATM कार्ड को बंद कर दिया जाए।

अब ऐसे में सवाल उठता है कि इसके बाद आप कैश कैसे निकालेंगे ।

जानकारी के अनुसार स्टेट बैंक द्वारा लॉन्च की गई YONO Cash सुविधा में यूजर YONO ऐप के जरिए अब आप बिना कार्ड के कैश निकाल सकेंगे। जिन एटीएम में ये फीचर काम करेगा उन्हें योनो कैश प्वाइंट्स कहा जाएगा। ग्राहकों को योनो एप अपने फोन में इंस्टॉल करना होगा और दूसरा लेनदेन के लिए 6 अंकों का योनो कैश पिन सेट करना होगा।

YONO को एंड्रॉइड और आईओएस फोन में चला सकते हैं और वेब पर एक ब्राउजर के जरिए भी इसे चलाया जा सकता है।

कैश निकलाने की प्रक्रिया में ग्राहक के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर 6 अंकों का कोड मैसेज से आएगा, जिसे 30 मिनट के भीतर नजदीकी योनो कैश प्वाइंट पर इस्तेमाल कर कैश निकाल सकते हैं।योनो कैश को YONO SBI के साथ लॉन्च किया गया है जो कि भारत का पहला एकीकृत बैंकिंग और लाइफस्टाइल प्लेटफॉर्म है जो कि एसबीआई को ऐसी सुविधा देने वाला पहला बैंक बनाता है।

कार्डलेस निकासी में कार्ड के भूलने या खोने का डर नहीं रहता है, एसबीआई मान रहा है कि वह योनो कैश फीचर के जरिए ग्राहकों को ज्यादा सुरक्षा और सुविधा प्रदान करके खुश करेगा।