अमर भारती : हाल ही में हुए न्यूजीलैंड और इंडिया के बीच आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने महेंद्र सिंह धोनी को ‘दिग्गज’ करार दिया है और वहीं उनकी सरकार के एक मंत्री ने धोनी के लिए भारत की हार पर एक शर्मनाक कमेंट किया है। टीम इंडिया न्यूजीलैंड के हाथों 18 रनों से हार गई और टीम विश्व कप से बाहर हो गई।

पाकिस्तान सरकार के विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने ट्विटर पर लिखा है कि, ‘पाकिस्तानियों की नई मोहब्बत न्यूजीलैंड है।’ और यही नहीं बल्कि उन्होंने एक ट्वीट का जवाब देते हुए रीट्विट किया और कहा कि, ‘धोनी आप इसी तरह की शर्मनाक हार के हकदार थे।’ और वहीं दूसरी तरफ अख्तर ने धोनी का समर्थन करते हुए अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि, ‘धोनी एक दिग्गज हैं। वह इस खेल के महान दूत हैं। वह जब तक वहां थे तब तक ऐसा लग रहा था कि वह भारत को जिता देंगे। हालांकि वह दुर्भाग्यवश भारत को फाइनल में नहीं पहुंचा सके।’ और उन्होंने यह भी कहा कि, ‘विश्व कप में टीम जिस तरह से खेली, उससे भारतीय फैन को खुश होना चाहिए।’ बता दें कि मैनचेस्टर में खेले गए आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के पहले सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को 18 रनों से हरा दिया है। इसी के साथ भारत का तीसरी बार वर्ल्ड चैम्पियन बनने का सपना भी चूर चूर हो गया है। भारतीय टीम को सेमीफाइनल में उसी न्यूजीलैंड टीम ने मात दी, जिसने उसे वॉर्म-अप मैच में शिकस्त दी थी। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड की टीम ने 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 239 रन बनाए और भारत के सामने 240 रनों का लक्ष्य रख दिया। इस छोटे-से टारगेट को भी टीम इंडिया पूरा करने में असफल रही। लक्ष्य को पूरा करने के चक्कर में टीम इंडिया 49.3 ओवर में 221 रन पर ही ऑलआउट हो गई। न्यूजीलैंड लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची है। उसने 2015 वर्ल्ड कप में भी फाइनल खेला था। फाइनल में न्यूजीलैंड का सामना ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच गुरुवार को खेले जाने वाले दूसरे सेमीफाइनल मैच की विजेता से होगा। मैनचेस्टर में कीवी टीम का यह तीसरा सेमीफाइनल है जिसमें से दो में उसे हार मिली और जबकि यह उसकी पहली जीत है। इस बार का विश्व कप कौन सी टीम लेकर जाएगी यह देखना लोगों के लिए बहुत ही दिलचस्प रहेगा।

रिपोर्ट- अनुभव जैन

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-