अमर भारती : आजकल के दौर में बाहर के खान-पान और अन्य कारणों से आंखें कमज़ोर होना आमबात है,इसके चलते छोटे बच्चों की भी कम उम्र में ही आंखें कमज़ोर हो जाती है और चश्मा लग जाता है जाे कि अच्छा नहीं लगता।अकसर लड़कियां भी चश्मा लगाने से बहुत बचती हैं खास तौर से शादी-पार्टीज़ में, तो आज हम लाए हैं आपके लिए कुछ ऐसे उपाय जिनसे आप अपने आंखों की रौशनी को बढ़ा सकते हैं-

– बादाम, सौंफ और मिश्री को बराबर मात्रा में लेकर उसे पीस लें,इस मिश्रण का 10 ग्राम हिस्सा 250 मिली दूध के साथ रात में सोने से पहले लें।याद रहे कि इसे लेने के दो घंटे बाद तक पानी न पिएं।

– पैर के तलवों पर सरसों के तेल की मालिश करके सोएं।

– सुबह के समय नंगे पैर हरी घास पर चलें व नियमित रूप से अनुलोम-विलोम प्राणायाम करें।

– विटामिन ए,सी और ई से भरपूर भोजन करें।

– एक चने के दाने जितनी फिटकरी को सेंककर सौ ग्राम गुलाबजल में डालकर रख लें,रोजाना रात को सोते समय इस गुलाबजल की चार-पांच बूंद आंखों में डालें।

– एक पेंसिल लें और उसक मध्य में कोई अक्षर लिखें अब इसे आंखों के सामने बांहो की दूरी पर पकडें़ और उस अक्षर पर फोकस करें,अब धीरे-धीरे पेंसिल को नाक के करीब लाएं और फोकस बनाए रखें।इसे तब तक करीब लाएं जब तक वह दो भागों में ना दिखाई देने लगे और जैसे ही वह दो दिखने लगे से हटा लें और थोड़ी देर के लिए आंखों को खुला रखें और इधर-उधर देखें।इसका रोज़ अभ्यास करें।

– आंवले के पानी से आंखें धोने से या गुलाबजल डालने से भी आंखें स्वस्थ रहती हैं।

– कनपटी पर गाय के घी की हल्के हाथ से रोज़ाना कुछ देर मसाज करें।

– त्रिफला चूर्ण को रात्रि में पानी में भिगोकर, सुबह छानकर उससे आंखें धोएं।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-