अमर भारती :  आज के समय में अपराध बढ़ता ही जा रहा है। मानवता को तारतार करने वाली खबर सामने आई है। अपने पांच बच्चों की हत्या के जुर्म में दोषी ठहराए गए एक अमेरिकी व्यक्ति को बृहस्पतिवार को मौत की सजा सुनाई गई। हालांकि उसकी पत्नी ने यह कहते हुए अपने पति की जान बख्शे जाने की मांग की थी कि बच्चे अपने पिता से बहुत प्यार करते थे।

आरोपी टिमोथी जोन्स (37) के मामले की सुनवाई के दौरान दलील दी थी कि उनका मुवक्किल ‘सीजोफ्रेनिक’ है इसलिए वह इस हालत में नहीं है कि उसके खिलाफ मामला चलाया जा सके जोन्स को 2014 में अपने पांच बच्चों, जिनकी उम्र एक से आठ साल के बीच थी।

आरोपी को हत्या का दोषी पिछले साल ठहराया गया था। दोषी की पूर्व पत्नी ने जब दक्षिण कैरोलीना की अदालत में ज्यूरी से अपने पूर्व पति को जिंदा रहने देने की अपील की तो पूरी अदालत मुंह की तरफ देखती रह गई पूर्व पत्नी अंबर केजर ने कहा, ‘उसने मेरे बच्चों पर किसी तरह की कोई दया नहीं दिखाई लेकिन बच्चे उसे प्यार करते थे।

अगर मैं अपनी ओर से नहीं, बच्चों की तरफ से बोलूं तो मुझे बस यही कहना है, कि इन्हे माफ किया जाए।  जोन्स ने अदालत में कहा था कि उसे शक था कि उसका छह साल का बच्चा अपनी मां के साथ मिल कर उसके खिलाफ साजिश रच रहा है इसलिए उसने बच्चे से तब तक कसरत कराई जब तक उसकी मौत नहीं हो गई।

बाद में उसने चार अन्य बच्चों की गला घोट कर हत्या कर दी और मासूम बच्चों के शवों को अल्बामा में पहाड़ी के निकट फेंकने से पहले नौ दिन तक कार में लिए घूमता रहा कई दिनो तक शवों को रखे रहने के कारण उनमे से बदबू आने लगी इसके चलते उसे एक चेकपोस्ट पर गिरफ्तार कर लिया गया।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-