अमर भारती : संगठित क्षेत्र में रोजगार सृजन के मोर्चे पर थोड़ी राहत मिली है। आपको बता दें कि फरवरी के मुकाबले मार्च में अधिक नौकरियों का सृजन हुआ है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के ताजा आंकड़ों के मुताबिक मार्च महीने में 8.14 लाख नई नौकरियां मिली हैं जबकि फरवरी में यह आंकड़ा 7.88 लाख था। मतलब ये हुआ कि फरवरी में 7.88 लाख नई नौकरियां मिली थीं। वहीं अगर साल के आधार पर बात करें तो 2018-19 में 67.59 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ।

दरअसल 2019 में सबसे अधिक नौकिरयां 22 से 25 साल के आयुवर्ग के लोगों को मिली। इस वर्ग के लोगों के लिए 2.25 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ।  इसके बाद 18 से 21 साल के आयु वर्ग में रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ। वित्त वर्ष 2018-19 में 8.31 लाख के आंकड़े के साथ नौकरियों में बढ़ोतरी का सबसे ऊंचा आंकड़ा जनवरी, 2019 में रहा. पिछले माह जारी प्रारंभिक आंकड़ों में जनवरी 2019 का यह आंकड़ा 8.94 लाख बताया गया था। इन आंकड़ों के अनुसार सितंबर, 2017 से मार्च, 2018 के दौरान ईपीएफओ में कुल मिला कर 15.52 लाख नए सदस्य जुड़े।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-