अमर भारती : मई का महीना है और गर्मी अपने चरम पर है। भीषण गर्मी की वजह से सामान्य जन जीवन भी प्रभावित हो रहा है। ऐसे में गर्मी से परेशान लोगों के लिए राहत की खबर है। भारतीय मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि मॉनसून अपने आगमन की सामान्य तिथि के पांच दिन बाद, छह जून को केरल में दस्तक देगा। इससे पहले मौसम पूवार्नुमान बताने वाली एजेंसी स्काईमेट इस बार मानसून के तीन दिन की देरी से चार जून को केरल पहुंचने का पूर्वानुमान है। केरल में सामान्यत: मानसून शुरू होने की तारीख एक जून है। वहीं, दिल्ली एनसीआर में 29 जून से बारिश के आसार बन रहे हैं। मौसम की जानकारी देने वाली संस्था स्काईमेट वेदर सर्विस

के प्रबंध निदेशक जतिन सिंह ने मंगलवार को बताया कि इस बार मानसून चार जून को केरल में दस्तक दे सकता है हालांकि इसमें दो दिन का एरर मार्जिन भी रखा गया है। उन्होंने बताया कि इस साल मानसून कमजोर रहने का अनुमान है और स्थिति बहुत अच्छी नहीं दिख रही है।

मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार इस साल भारतीय उप महाद्वीप में मानसून शुरुआती दौर में थोड़ा कमजोर रहेगा। इस साल दिल्ली- एनसीआर, पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, चंडीगढ़ में मानसून के सामान्य रहने की संभावना है। जिसके चलते लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिलने के आसार है। मानसून की बारिश का असर जून और जुलाई में अधिक दिखेगा। दिल्ली-एनसीआर में 29 जून के करीब मानसून की दस्तक होगी। जिसके बाद लोगों को गर्मी से राहत के आसार हैं। वहीं  इस साल महाराष्ट्र, विदर्भ, तमिलनाडु, कर्नाटक, झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल में औसत से कम मानसून रहने की संभावना है।

 

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-