अमर भारती : नारी को देवी का रूप माना जाता है लेकिन वहीं देवी जब हैवान का रूप धारण कर ले तो क्या होगा। घटना उत्तर प्रदेश के बरेली जिले की है जहां दिल दहला देने वाली हत्या का मामला सामने आया है। यहां एक पत्नी ने अपने पति को जिंदा जला दिया। पति का कसूर सिर्फ इतना था कि वह काला था सिर्फ इसी वजह से वो अपने पति को पसंद नहीं करती थी। घटना के बाद पति को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया। वहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। महिला को पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया है।

घटना बरेली के खुर्द फतेहगढ़ थाना क्षेत्र की है। जहां 22 वर्षीया विवाहिता ने अपने पति को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया। बाद में उसे अस्पताल ले जाया गया वहां उसकी मौत हो गई। महिला की पहचान प्रेमश्री के रूप में की गई है। महिला ने ये खौफनाक कदम इसलिए उठाया कयोंकि उसके पति का रंग काला था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इलाके में रहने वाले सत्यवीर सिंह की शादी दो साल पहले प्रेमश्री नामक महिला से हुई थी। उन दोनों की 5 माह की एक बेटी भी है। सत्यवीर का रंग काला होने की वजह से वह प्रेमश्री को नापसंद था। थाना प्रभारी के मुताबिक, बीते सोमवार की सुबह करीब 5 बजे जब सत्यवीर सिंह चारपाई पर सो रहा था। उसी वक्त उसकी पत्नी प्रेमश्री ने उसके ऊपर पेट्रोल छिड़का और उसे आग के हवाले कर दिया। इस दौरान कुछ पेट्रोल प्रेमश्री के पैरों पर भी गिर गया, जिसकी वजह से उसके पैर भी जल गए।

सत्यवीर की चीख पुकार सुनकर उसके परिजन और आस-पास के लोग वहां पहुंच गए। फौरन सत्यवीर को अस्पताल ले जाया गया। जहां कुछ ही देर बाद उसकी मौत हो गई। परिजनों ने बताया कि प्रेमश्री शादी के बाद से ही सत्यवीर को पसंद नहीं करती थी वो उसे काले रंग के लिए अक्सर ताने मारती थी। लेकिन सत्यवीर उसे बहुत प्यार करता था। बरेली पुलिस ने सत्यवीर की मौत के बाद उसकी पत्नी प्रेमश्री के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-