अमर भारती : फरीदाबाद में तीन दिन की मासूम बच्ची के अपहरण का शर्मनाक मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि अपहरण के एक दिन पहले मां और पिता के साथ बच्ची सो रही थी और इसी बीच बच्ची को अगवाह किया गया। पुलिस की छानबीन में बच्ची की लाश घर के पास कूड़े के ढेर में मिली। ये पूरी घटना फरीदाबाद के राजीव कॉलोनी की है।

पुलिस ने बताया कि बच्ची का अपहरण रविवार रात में हुआ था और वहीं बच्ची की लाश बुधवार की सुबह उसी के घर से चंद कदमों की दूरी पर कूड़े के ढेर से बरामद हुई। बच्ची के शरीर पर चोट के निशान हैं, जिसकी वजह से पुलिस ने अपहरण और कत्ल की धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। 

फरीदाबाद के सरकारी अस्पताल में तीन दिन पहले ही उसकी पत्नी ने एक बेटी को जन्म दिया था। एक दिन बाद ही भोला अपनी बेटी और पत्नी के साथ राजीव कॉलोनी में अपनी झुग्गी में लौट आया था। लेकिन दो दिन बाद ही रविवार की रात जब उसकी नींद खुली तो उसने देखा कि उसके पास से उसकी बेटी गायब हो गई है और आसपास ढूंढने के बाद भोला थाने पहुंचा, लेकिन रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई।

दरअसल भोला को पहले शक हुआ कि उसकी बच्ची को कोई जानवर उठा ले गया होगा, लेकिन दो दिन बाद जब कूड़े के ढेर पर बच्ची की लाश मिली तो इलाके में हड़कंप मच गया। बच्ची के शरीर पर चोट के निशान देख पुलिस ने भी तुरंत अपहरण और कत्ल का केस दर्ज कर लिया।

हालांकि, पुलिस के पास इस बात का जवाब नहीं है कि जब एक पिता अपनी बच्ची को ढूंढता हुआ थाने पहुंचा था तो आखिर वो बिना रिपोर्ट लिखाए वापस क्यों लौट गया और पुलिस ने बिना किसी कार्रवाई के उसे जाने क्यों दिया।

अब पुलिस लाश का पोस्टमार्टम करा रही है ताकि ये पता चल सके कि बच्ची के साथ किसी तरह की गलत हरकत तो नहीं की गई थी और उसे कब और किस तरह से मारा गया, ये भी पुलिस के लिए गंभीर मसला है।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-