अमर भारती : दो साल बाद एक बार फिर राष्ट्रीय विमान कंपनी एयर इंडिया ने अपने खाने-पीने के भोजन में एक बड़ा बदलाव किया है। एयर इंडिया के बदवाल के मुताबिक अब यात्रियों को अच्छा नाश्ता और खाना दिया जाएगा और इसी के साथ ही पैकेटबंद और तले-भुने पदार्थों को हटा दिया जाएगा। यह नया बदलाव 1 अप्रैल से सभी अंतरराष्ट्रीय और घरेलू उड़ानों पर लागू होगा। अब यात्रियों को विमान में बैठते ही वेलकम ड्रिंक के तौर पर कोल्ड ड्रिंक या फिर डिब्बाबंद जूस की जगह आम पना, मसाला लस्सी और छाछ दिया जाएगा। बिजनेस क्लास में काजू और बादाम की जगह अब मूंग दाल जैसी चीजो की पेशकश की जाएगी।

बता दें कि इसके साथ ही अब यात्रियों को पहले  के मुकाबले कटे फल भी पेश नहीं किए जाएंगे जबकि लंबी दूरी की फ्लाइट में चटनी और घर का बना अचार मिलेगा। वहीं लंच और डिनर में चावल के साथ पराठा और दही भी दिया जाएगा। नाश्ते और हाई-टी में बर्गर, ब्रेड रोल की जगह अब पोहा, वेज उपमा और पावभाजी दी जाएगी। लंबी दूरी की फ्लाइट में फर्स्ट क्लास और बिजनेस क्लास में विकल्प के रूप में आम, अरदक, पुदीने की चटनी और घर पर बना अदरक-नींबू का अचार, हरी मिर्च और पापड़ मिलेगा।

बताया जा रहा है कि गर्मियों में सलाद की जगह दही-चावल परोसा जाएगा। वहीं अगर अमेरिका जाने वाली फ्लाइट की बात करें तो इसके दोनों क्लास में स्पेशल कुकीज के साथ बरिस्ता या स्टार बक्स की कॉफी उपलब्ध रहेगी। मीठे में बढ़िया गुणवत्ता वाली मिठाई और चॉकलेट दी जाएगी। एयर इंडिया के उड़ानों के खाने में इस तरह के बदलाव से पहले एयर इंडिया मैनेजमेंट ने फ्लाइट क्रू से भी इस संबंध में राय मांगी थी।

गौरतलब है कि यात्रियों को खाना परोसने का काम क्रू के सदस्य ही करते हैं और यात्री इन्हें खाने के संबंध में राय भी देते हैं। इसके अलावा लंच और डिनर के मेन्यू में से इसने चाय और कॉफी को भी बाहर कर दिया है। पहली जनवरी 2016 से 61 मिनट से 90 मिनट के उड़ान वाले विमानों के इकॉनोमी क्लास में सिर्फ भारतीय शाकाहारी भोजन ही परोसे  जाने का आदेश एयर इंडिया ने जारी किया था। अभी तक एयर इंडिया डेढ़ घंटे तक के उड़ान वाले विमानों में सामिष और निरामिष सैंडविच और केक परोसा करती थी।  एयर इंडिया मे जो लोग सफर करते है उनके लिए तो यह खुशी की बात है हलांकि इस सब के बाद भी यात्रियों की शिकायतो में कमी आएगी ऐसा अभी नही कहा जा सकता।

यदि आप भी मीडिया क्षेत्र से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-