अमर भारती : शेन वॉर्न ने विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर की तारीफ करते हुए मजाकिया अंदाज में कहा कि वह इन दोनों ही भारतीय बल्लेबाजों के सामने गेंदबाजी नहीं करना चाहते थे। अभी हाल ही में वॉर्न ने IPL को लेकर राजस्थान टीम की तैयारियों के दौरान कहा कि विव रिचर्डस ही दुनिया के सबसे सर्वश्रेष्ठ वनडे बल्लेबाज थे।

कोहली के बारे में वह राय तब बनाएंगे जब कोहलीं का करियर समाप्त हो जाएगा। वॉर्न ने कहा कि 90 के दशक में सचिन और ब्रायन लारा का क्लास सबसे ऊपर था। बाद में उनका करियर ऐसा नहीं रहा था। साथ ही वॉर्न ने कहा कि विराट पूरी तरह से एक अलग खिलाड़ी हैं। मेरे लिए कोहली एक बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं।

मगर मैं किसी एक को नहीं चुन सकता हूं आपको बता दें कि डॉन ब्रेडमैन ही दुनिया के सबसे अच्छे बल्लेबाज थे। इस पर लोगो की सर्वसम्मति भी है। इसके अलावा उनके लिए विव रिचर्डस भी सबसे अच्छे खिलाड़ी थे। विराट का रिकॉर्ड चुनौती पूर्ण है। जो उसे तोडना मुश्किल भरा होगा।

उनके मुताबिक अगर स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापस आते हैं। इससे ऑस्ट्रेलियाई टीम और ज्यादा मजबूत होगी। पूर्व लेग स्पिनर ने यह भी कहा कि स्मिथ एक बहुत बड़ा खिलाड़ी है। यदि आप पिछले साल के मार्च के समय को देखें तो दुनिया के पांच खिलाड़ी शीर्ष थे।

विराट कोहली, एबी डिविलियर्स, स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और केन विलियमसन। स्मिथ के मामले में नुकसान राजस्थान रॉयल्स को भी हुआ था। इस साल IPL के बाद विश्व कप होने हैं। अगर भारत को सही मायने में खिताब का दावेदार बनना है, तो कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी को अच्छा प्रदर्शन करना होगा।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यू