अमर भारती : यूपी में अपराध बढ़ता ही जा रहा है। अपराधी तरह-तरह की वारदातों को बैखोफ अंजाम दे रहे हैं। मेरठ से एक घटना सामने आई है। रोहटा थानाक्षेत्र चिंदौड़ी गांव निवासी प्रॉपर्टी डीलर अनिल उर्फ बंटी पुत्र विरेंद्र कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

उसकी पहचान छिपाने के लिए चेहरे को ईंट से कुचल दिया गया। परिजनों के मुताबिक हत्या का शक प्रॉपर्टी डीलर के दोस्तों पर हुआ, शिकायत के बाद पुलिस ने एक दोस्त को गिरफ्तार कर अन्य चार को हिरासत में ले लिया है। एसओ मेडिकल कैलाश चंद के मुताबिक दूसरी पत्नी ने बताया कि मंगलवार शाम अनिल को उसके चार दोस्त गोलू, राजा, मनीष निवासी आई ब्लॉक शास्त्रीनगर और टिंकू निवासी माधवपुरम घर से बुलाकर ले गए थे।

देर रात तक अनिल वापस नहीं लौटा तो पत्नी ने उनके दोस्तों से संपर्क किया। जिसमें मनीष से उसकी बात हुई। मनीष ने अनिल गोलू और राजा के साथ होने की बात कही और कुछ भी बताने से इनकार कर दिया। प्रारंभिक जांच में अवैध संबंध के चलते हत्या की बात सामने आई। पुलिस के अनुसार अनिल का शव खून से लथपथ प्रवेश विहार से काजीपुर गांव मार्ग पर मिला था।

उसे दो गोलियां मारी गईं थीं। शव मिलने की जानकारी पर अनिल की दूसरी पत्नी ने पोस्टमार्टम हाउस पर जाकर शनाख्त की। उसने ही अनिल की पहली पत्नी को इसके बारे में फोन पर बताया। शव के पास बाइक मिली थी। जिसका रजिस्ट्रेशन अमित चौधरी निवासी जागृति विहार के नाम था।

अनिल की जेब में मोबाइल फोन व पर्स मिला था। मोबाइल से आखिरी कॉल सिंभावली में एक युवक को की गई थी। पुलिस के मुताबिक मनीष ने बताया कि अनिल की हत्या गोलू ,राजा, टिंकू ने की है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यू