अमर भारती : ऑस्ट्रेलिया में पहली बार द्विपक्षीय वनडे सीरीज पर कब्जा करने के बाद भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड में कीवियों के खिलाफ 10 साल बाद बाइलेट्रल वनडे सीरीज पर कब्जा जमा लिया है और 3-0 से अजेय बढ़त हासिल कर ली है। माउंट माउंगानुई में खेले गए तीसरे वनडे मैच में 7 विकेट से जीत दर्ज करते ही भारत ने यह कारनामा कर दिया। भारत को कीवियों के खिलाफ न्यूजीलैंड में आखिरी वनडे सीरीज जीत 2009 में मिली थी।

2009 के बाद कीवियों की धरती पर यह भारत की दूसरी बाइलेट्रल वनडे सीरीज जीत है। भारत ने इस जीत के साथ 2014 में न्यूजीलैंड की ही धरती पर हुई वनडे सीरीज की हार का बदला ले लिया है, जब ब्रेंडन मैक्कुलम की कप्तानी वाली कीवी टीम ने एमएस धोनी की कप्तानी वाली टीम इंडिया को 4-0 से मात दी थी। टीम इंडिया ने 2014 के न्यूजीलैंड दौरे पर वनडे सीरीज में एक टाई समेत सारे मुकाबले गंवाए थे।

अब भारत ने कीवियों के खिलाफ उनकी ही जमीन पर 37 वनडे में से 13 जीत लिए हैं, 21 में उसे हार मिली है। इन दोनों के बीच एक मुकाबला टाई पर छूटा, जबकि 2 मैच बेनतीजा रहे. न्यूजीलैंड की धरती पर भारत 1976 से खेल रहा है। न्यूजीलैंड में भारत की यह 8वीं द्विपक्षीय वनडे सीरीज है। कीवियों की सरजमीं पर भारत ने अब 2 द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीत ली हैं। उसे 4 सीरीज गंवानी पड़ी है, जबकि दो सीरीज ड्रॉ रही।

आपको बता दें कि रोहित शर्मा (62) और कप्तान विराट कोहली (60) के अर्धशतकों से भारत ने न्यूजीलैंड को हरा दिया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड 49 ओवर में 243 रन पर ऑल आउट हो गई और टीम इंडिया को सीरीज जीत के लिए 244 रनों का टारगेट मिला। न्यूजीलैंड की तरफ से रॉस टेलर ने 93 रन बनाए जबकि टॉम लाथम ने 51 रनों की पारी खेली। भारत के लिए मोहम्मद शमी ने सबसे ज्यादा 3 विकेट लिए।

उनके अलावा भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल और हार्दिक पंड्या को 2-2 विकेट मिले। भारत ने यह लक्ष्य तीन विकेट गंवा कर 43 ओवर में हासिल कर लिया और 7 विकेट से मैच और सीरीज पर कब्जा कर लिया। भारत ने पांच मैचों की वनडे सीरीज में 3-0 से अजेय बढ़त बना ली है। मोहम्मद शमी को ‘मैन ऑफ द मैच’ का अवॉर्ड मिला।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट

Comments are closed.