अमर भारती : एक कपल ने एक माह की दूध पीती बच्ची को बैग में रख कर कड़कड़ाती ठंड में मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ ज‍िले में भगवान भरोसे रामराजा मंदिर पर छोड़ कर चले गए। मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले की पर्यटन एव धार्मिक नगरी ओरछा के रामराजा मन्दिर परिसर में करीब एक माह की बच्ची बैग में लावारिस हालात में मिली।

जब मन्दिर के पास लोगों ने लावारिस लाल बैग को देखा तो बैग में हलचल दिखी। बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी तो श्रद्धालुओं ने बैग खोल कर देखा। उसमें नवजात बच्ची थी।

ओरछा मन्दिर के पास लगे CCTV कैमरे में देखा तो एक जोड़ा बैग लेकर आते नजर आ रहे हैं। युवक हाथ में बैग लिए है तो महिला खड़ी नजर आ रही है। पहले बैग लेकर कपल आते हैं और मन्दिर के बाहर सीढ़‍ियों पर बैठ जाते हैं। लगभग 40 सेकंड बैठने के बाद दोनों लोग बैग उठा कर जाते दिखाई देते हैं। CCTV में महिला खड़ी द‍िखाई दे रही है। फिर रोड पर युवक, महिला के साथ जाता नजर आ रहा है लेक‍िन अब इनके हाथों में बैग नहीं।

यह घटना मन्दिर परिसर में अलग-अलग जगह लगे कैमरों में कैद हो गई। CCTV कैमरों के अनुसार घटना का समय सुबह 6:33 से लेकर 6:36 बजे के बीच का है। जब घने कोहरे और कड़कड़ाती सर्दी की वजह से रोड पर कोई नजर नहीं आ रहा है। तब यह दोनों, बच्ची को छोड़कर चले जाते हैं।

नवजात शिशु के बैग में होने की सूचना पुलिस को मंदिर मे आने जाने वाले श्रद्धालुओं ने तत्काल डायल 100 की मदद से बच्ची को स्वास्थ्य केंद्र ओरछा में भर्ती कराया। मेडिकल ऑफिसर डॉ.रमेश आर्या ने बच्ची की उम्र करीब एक माह बताई है। बच्ची पूर्णतः स्वस्थ है। बैग में कंबल, डायपर, दूध की बोतल और कपड़े मिले थे।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट

Comments are closed.