अमर भारती : देश में सीबीआई जांच पर सवाल उठाने की बात कोई नई नहीं है। बुधवार को मेरठ पहुंचे पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने सीबीआई जांच पर सवाल खड़ा किया और कहा कि हमीरपुर खनन मामले में सीबीआई का गलत तरीके से इस्तेमाल किया गया है। उन्होंने कहा कि गठबंधन की बात होते ही सीबीआई सक्रिय हुई है। ढाई साल से सीबीआई क्या कर रही थी।

आरक्षण मामले पर उन्होंने कहा कि गरीबों को आरक्षण की जरूरत है। हम इस बात से सहमत हैं लेकिन आर्थिक वर्ग के आधार पर हर जाति के गरीब को कमजोरों को आरक्षण दिया जाए और हम इस बात को सोलह साल से कह रहे हैं। गौरतलब है कि  ओमप्रकाश राजभर मेरठ के सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे थे।

उन्होनें कहा कि पिछली सरकार के दौरान भी सुप्रीम कोर्ट ने बयान दिया था कि सीबाआई को तोता बना लिया है। अब रात के दो बजे सीबीआई डायरेक्टर को हटाया जा रहा है इसका क्या औचित्य है। सीबीआई का गलत इस्तेमाल होता आ रहा है। महिला सशक्तिकरण पर उन्होंने कहा कि सिर्फ हवाई बातें हो रही हैं।

भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर का कहना है कि भाजपा को चुनाव के समय ही राम मंदिर की याद आती है। सौ दिन में पिछड़ा वर्ग में अगर आरक्षण का विभाजन नहीं किया गया तो प्रदेश की अस्सी सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ा जाएगा।

सवर्णों को आरक्षण एक दिन में दे दिया जाता है, जबकि पिछड़ी जातियों के आरक्षण के भीतर आरक्षण की मांग पुरानी है। यह चुनावी आरक्षण है, सब इसे समझते हैं। राजभर बुधवार को एक निजी कार्यक्रम में बागपत के पुसार गांव पहुंचे थे।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट