अमर भारती : उत्तर प्रदेश में लगातार एक के बाद आत्महत्या का मामला सामने आ रहा है। जिसमें अपने ही बच्चो की हत्या करने के बाद खुद के भी मौत के हवाले कर दिया। दरअसल, हाल ही में उत्तर प्रदेश  बलिया जिले में एक मां ने अपने ही हाथों से  अपने दो मासूम बच्चों की गला रेतकर जान ले ली और इसके बाद ट्रेन के आगे कूद कर खुद को भी मौत के हवाले कर दिया।

आपके बता दें इस घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस और अन्य थानों की पुल‍िस फोर्स मौके पर ही वारदात की जगह पर पहुंच गई। इसके बाद पुल‍िस ने शव को पोस्टमार्टम के ल‍िए भिजवाकर जांच शुरू कर दी है।

दरअसल, बल‍िया के कोतवाली क्षेत्र के महतवार में रहने वाले राम अवतार पासवान, भदोही में  सेतु निगम में कार्यरत थे। 2 महीने पहले उनकी मौत हो गई थी। उनका इकलौता पुत्र दिनेश पासवान आश्रित कोटे से नौकरी के लिए कागजात जमा कराने शनिवार की सुबह भदोही गया था और उसकी मां सुरसतिया देवी,पत्नी पिंकी और दो बच्चे के साथ घर पर थे।

देर रात पिंकी ने 5 साल के विंध्याचल और 3 साल के कल्लू की शनिवार रात में हत्या कर दी। फिर अपने घर से  2 क‍िलोमीटर दूर गढ़िया रेलवे क्रासिंग पर डाउन सूरत-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस के आगे कूदकर अपनी भी जान दे दी।

 गम में डूबा मृतक का परिवार 

पुलिस को मौके पर पिंकी का मोबाइल पड़ा मिला जिससे उसने पति दिनेश को घटना के बारे में बताया। दिनेश के बताने पर पुलिस उसके घर पहुंची और सास को उसकी बहू के ट्रेन से कटने की सूचना दी। सास के साथ आसपास के लोग क्रासिंग पर पहुंचे तो पिंकी का शव ट्रैक पर पड़ा था। वहां से रोते हुए सास  घर पहुंची तो दोनों बच्चों को मृत पाया। बहू और दोनों पोतों की मौत से पूरे घर में गम का माहौल छा गया।

पुल‍िस के अनुसार,  दो बच्चों की हत्या व महिला द्वारा खुदकशी किए जाने के मामले में पारिवारिक विवाद की बात सामने आई है। इस मामले में मृतक के पति के कहने पर मृतका के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन की जा रही है।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here