अमर भारती : जम्मू-कश्मीर में 40 दिनों का सर्द आफतकाल लगा है। श्रीनगर में गुरुवार रात का न्यूनतम तापमान शून्य से 3.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। पहाड़ों पर बर्फ तूफान के कारण मैदानों में लोग ठिठुर रहे हैं।दक्षिणी कश्मीर के काजीगुंड में न्यूनतम तापमान शून्य से 0.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया जबकि नजदीक के कोकेरनाग कस्बे में न्यूनतम तापमान शून्य से 1.0 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा।

कश्मीर में मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है: कि आगे भी ऐसा ही मौसम जारी रहेगा। अनंतनाग, कुलगाम, बड़गाम, बारामुला, कुपवाड़ा, बांदीपोरा, गांदरबल, कारगिल और लेह में हिमस्खलन की चेतावनी जारी की है। प्रभावित जिलों में लोगों को हिमस्खलन प्रभावित क्षेत्रों में न जाने की हिदायत दी गई है। एसडीआरएफ, पुलिस, पैरा मेडिकल स्टाफ को एंबुलेंस सहित सभी जरूरी इंतजाम करने को कहा गया है।

उत्तरी कश्मीर का गुलमर्ग घाटी में सबसे ठंडा स्थान रहा: वहां का न्यूनतम तापमान शून्य से 10.0 डिग्री सेल्सियस नीचे रिकार्ड किया गया जबकि इससे पहले की रात का तापमान शून्य से 8.5 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा था। वहीं, उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में रात का न्यूनतम तापमान 4.6 डिग्री और पहलगाम में तापमान शून्य से 6.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

लद्दाख क्षेत्र में लेह का वीरवार रात का न्यूनतम तापमान शून्य से 14.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया प्रदेश में करगिल सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 18.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।राजौरी और पुंछ जिले को शोपियां (कश्मीर) से जोड़ने वाला मुगल रोड तीसरे दिन भी बंद रहा। मौसम विभाग श्रीनगर ने शनिवार को भी जम्मू और कश्मीर के कई हिस्सों में भारी बारिश और बर्फबारी की चेतावनी दी है। रविवार को भी खराब मौसम का असर दिखेगा। विश्व विख्यात गुलमर्ग, पहलगाम, साधना टाप, राजदान पास, जोजिला, पीर पंजाल आदि पर्वतीय इलाकों में भारी बर्फबारी हुई है।

दिल्ली में बादल छाए रहने के आसार

मौसम वैज्ञानिकों ने दिल्ली में धुंध की आशंका के साथ आंशिक रूप से बादल छाए रहने का पूर्वानुमान जताया है. अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रह सकता है। मौसम विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक, शनिवार की शाम तक हल्की बारिश हो सकती है और रविवार को तापमान में गिरावट देखने को मिल सकती है।

राजस्थान में बारिश का अकांशाए

राजस्थान के पश्चिमी इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ के कारण आगामी 24 घंटों में 8 जिलों में बारिश और सीकर झुंझुनूं में ओलावृष्टि का अनुमान है मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के चलते पश्चिमी इलाकों में बने चक्रवात से राज्य के अलवर, भरतपुर, धौलपुर, झुंझुनूं, सीकर, चूरू, हनुमानगढ और श्रीगंगानगर में तेज हवाओं के साथ बारिश और सीकर झुंझुनूं में ओलावृष्टि होने का अनुमान है।

उन्होंने बताया कि सीकर में न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस,चूरू में 4.5, श्रीगंगानगर में 6.0,डबोक में 7.0, जयपुर में 7.5, कोटा में 8.8, अजमेर में 10.2, जोधहपुर में 11.7, जैसलमेर में 12.4, बाडमेर में 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, राज्य के अधिकतर हिस्सों में अधिकतम तापमान 17.6 डिग्री सेल्सियस से लेकर 28.1 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया।

हिमाचल में भारी बारिश,बर्फबारी का अलर्ट जारी

भारतीय मौमस विभाग ने हिमाचल में 6 जनवरी तक भारी बर्फबारी और बारिश की ‘नारंगी चेतावनी’ जारी की है    मौसम विभाग ने कहा कि लाहौल और स्पीति जिले के प्रशासनिक केंद्र केलांग राज्य का सबसे ठंडा स्थान बना हुआ है जहां गुरुवार को शाम साढ़े 5 बजे से शुक्रवार को सुबह साढ़े 8 बजे तक न्यूनतम तापमान शून्य से 10.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

पंजाब और हरियाणा में ठंड का कहर जारी

पंजाब और हरियाणा के ज्यादातर इलाकों में ठंड का प्रकोप शुक्रवार को भी जारी रहा और आदमपुर में न्यूनतम तापमान 1.2 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया, जो दोनों राज्यों के भी किसी इलाके का सबसे कम तापमान है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने यहां बताया कि जालंधर के निकट आदमपुर में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे चला गया है जबकि अमृतसर में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में कड़ाके की ठंड पड़ रही है जहां तापमान गिरकर 5.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. हरियाणा में नारनौल सबसे कम तापमान के साथ राज्य का सबसे ठंडा इलाका बना हुआ है। जहां न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। हिसार में भी 5.7 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ कड़ाके की ठंड पड़ रही है।

भारी बर्फबारी के कारण शुक्रवार शाम को जवाहर टनल से कश्मीर जाने वाले वाहनों को उधमपुर के पास रोक दिया गया। इससे दोनों ओर से हजारों वाहन फंस गए। ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर समेत कश्मीर के अधिकांश हिस्सों में बर्फबारी से पारा गिर गया है।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here