अमर भारती : ऋषभ पंत ने अपने करियर के 9वां टेस्ट मैच में वो कर दिखाया, जो आज तक भारत का कोई भी विकेटकीपर बल्लेबाज नहीं कर पाया था, महेंद्र सिंह धोनी भी नहीं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्ट के दूसरे दिन ऋषभ पंत ने धमाकेदार अंदाज में अपने टेस्ट करियर का दूसरा शतक पूरा किया। पंत ने 137 गेंदों में अपने करियर का न सिर्फ दूसरा टेस्ट शतक जमाया, बल्कि विकेटकीपर के तौर पर ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर इतिहास भी रच दिया।

भारत 1947 से ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच खेल रहा है। इन 72 साल में ऑस्ट्रेलिया की धरती पर शतक जमाने वाले वह पहले विकेटकीपर बन गए हैं। यह कारनामा धोनी भी नहीं कर पाए थे। ऋषभ पंत ने मार्नस लाबुशेन की गेंद पर चौका लगाकर अपना शतक पूरा किया।

इतना ही नहीं साउथ अफ्रिका, इंग्लैंड, न्यूज़ीलैंड, ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों की धरती पर पंत का टेस्ट मैच में यह दूसरा शतक हैं। इससे पहले उन्होंने पिछले साल इंग्लैंड की धरती पर ओवल टेस्ट में शतक जमाकर इतिहास रचा था। उस मैच में पंत ने 146 गेंदों में 114 रन बनाए थे। उनकी पारी में 15 चौके और 4 छक्के शामिल रहे।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पंत ने 117 गेंदों में अपने करियर का न सिर्फ पहला टेस्ट शतक जमाया, बल्कि विकेटकीपर के तौर पर ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर इतिहास रच दिया।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट 

Comments are closed.