अमर भारती : संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूनीसेफ की एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया की नए साल के पहले दिन यानि 1जनवरी को दुनिया में सबसे ज्यादा बच्चे भारत में पैदा हुए हैं। दुनिया में कुल जन्में बच्चो का करीब 18 फीसदी हिस्सा भारत में जन्मा हैं।

नए साल के पहले दिन दुनिया में सबसे ज्यादा बच्चे संभवत: भारत में पैदा हुए हैं। रिर्पोट के अनुसार, 1 जनवरी 2019 को भारत में करीब 70 हजार बच्चे पैदा होने का अनुमान लगाया गया। जहां दुनिया भर में 3,95,072 बच्चे पैदा हुए वहीं भारत में 69,944 बच्चों का जन्म हुआ।

यूनिसेफ के रिपोर्ट अनुसार, दुनिया में बच्चों के जन्म की आधी से ज्यादा संख्या सिर्फ सात देशों में पैदा हुए। इनमें भारत के अलावा चीन (44,940), नाईजीरिया (25,685), पाकिस्तान (15,112), इंडोनेशिया (13,256), अमेरिका (11,086), डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो (10,053) और बांग्लादेश (8,428) शामिल हैं।  2019 का पहले दिन का पहला बच्चा संभवत: फिजी में और अमेरिका में अंतिम बच्चा पैदा हुआ।

यूनिसेफ की भारत प्रतिनिधि यास्मीन अली हक ने कहा, ‘नए साल के दिन के साथ हमें यह संकल्प लेना चाहिए कि हर लड़के और लड़की के हर हक को पूरा करेंगे,  इसकी शुरुआत उसके अस्तित्व के अधिकार से की जा सकती है। हम स्थानीय स्वास्थ्य कर्मियों के यदि प्रशिक्षण और साजो-सामान को करने में निवेश कर सकें तो लाखों बच्चों की जान बचाई जा सकती है।’

गौरतलब है कि यूनिसेफ और विश्व स्वास्थ्य संगठन सहित कई वैश्विक संस्थाओं की एक रिपोर्ट के अनुसार जल्द ही जन्म लेने वाले करीब 3 करोड़ बच्चे बहुत छोटे या कमजोर होंगे और उनको जिंदा रखने के लिए काफी खास देखभाल की जरूरत होगी। ऐसे बच्चों में प्री-मैच्योरिटी,  ब्रेन इंजरी,  गंभीर बैक्टीरिया संक्रमण या जॉन्डिस जैसी समस्याएं देखी जा सकती हैं।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से: