अमर भारती : नए साल के उत्साह में कोई कमी न रह जाए, इसलिए एटीएम कार्ड की जांच जरूर कर लें। साल 2018 के आखिरी दिन आपका बिना चिप वाला डेबिट कार्ड भी पुराना हो जाएगा। अगर अभी तक आपने अपने डेबिट कार्ड को नहीं बदला है, तो जल्दी करें।

आज ही बैंक में जाकर अपने डेबिट कार्ड को बदल लें, वरना कल यानी एक जनवरी, 2019 से बिना चिप वाला आपका डेबिट कार्ड काम करना बंद कर देगा। यानी कि कल से वह मान्य नहीं होगा। ऐसे में, आपको एटीएम से नकदी निकालने में परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है।

रिजर्व बैंक ने वर्ष 2015 में देश के सभी निजी और सरकारी बैंकों को आर्थिक धोखाधड़ी से लोगों को बचाने के लिए ईएमवी चिप और पिन वाले डेबिट कार्ड मुहैया कराने का निर्देश दिया था। चूंकि पुराने कार्ड जिसमें चिप नहीं है इसे आसानी से क्लोन किया जा सकता है और इससे कार्ड फ्रॉड भी ज्यादा होता है।

कार्ड ब्लॉक हो भी गया तो आपकी ऑनलाइन बैंकिंग प्रभावित नहीं होगी। अगर आप चाहें तो ऑनलाइन शॉपिंग भी कर सकते हैं। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने 31 दिसंबर 2018 तक पुराने डेबिट क्रेडिट कार्ड्स को EMV Chip बेस्ड कार्ड में रिप्लेस करने को कहा है।

क्या होता है EMV Chip? इससे क्या है आपको फायदा?

EMV दरअसल एक पेमेंट मेथड है जो स्मार्ट पेमेंट कार्ड्स के लिए टेक्निकल स्टैंडर्ड पर आधारित है। EMV कार्ड्स का डेटा इसमें दिए गए इंटिग्रेटेड सर्किट में स्टोर होता है। इसके अलावा इस चिप की खासयित ये भी है कि यह NFC यानी नियर फील्ड कम्यूनिकेशन सपोर्ट करता है। इसके तहत कुछ दूरी से भी यह काम करता है। EMV स्टैंडर्ड सपोर्ट करने वाले कार्ड्स को चिप एंड पिन कार्ड कहा जाता है।

कैसे जानें आपका कार्ड EMV चिप वाला है या नहीं?

यह काफी आसान है। डेबिट या क्रेडिट कार्ड पर एक छोटी चिप लगी है यानी आपका कार्ड ब्लॉक नहीं होगा। अगर आपके कार्ड पर कोई चिप नहीं है तो आपका कार्ड ब्लॉक हो जाएगा। यह चिप आम तौर पर डेबिट क्रेडिट कार्ड के फ्रंट में लेफ्ट साइड में होता है।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से: