अमर भारती : कुंभ मेले को लेकर सरकार ने काफी खास इंतजाम किए है। कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या को ध्यान में रखते हुए सरकार ने काफी व्यापक इंतजाम किए हैं। मेले की शुरुआत में अभी करीब दो हफ्ते का समय बाकी है। कुंभ संगम की रेती पर तंबुओं के बीच झिलमिल-झिलमिल करती रोशनी वातावरण को एक अलग ही आभा प्रदान करती है।

अभी इस कुंभ मेले में वर्ल्ड क्लास सैनिटेशन की व्यवस्था करने की दिशा में काम चल रहा है। इस व्यवस्था के लिए मेला क्षेत्र को पूरी तरह से खुले में शौच से मुक्त करने के लिए एक लाख 22 हजार 500 शौचालय का निर्माण किया जा रहा हैं।

कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को मुफ्त में वाईफाई की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए रेलवे ने बीएसएनएल के अधिकारियों से बातचीत है। आपको बता दें कि मकर संक्रांति के एक दिन पहले से ही मेले के क्षेत्र में रेलवे के काउंटर की व्यवस्था शुरू कर दी जाएगी।

सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए यूपी पुलिस और एसडीआरएफ की टीमों को एनडीआरएफ की टीमों द्वारा खासी ट्रेनिंग दी गई है। साथ ही गोताखोरों को भी किसी भी प्रकार के हालात से निपटने के लिए खास तौर पर तैयार किया गया है। मेले में डॉग स्कावयड की टीमें भी मौजूद रहेगी।

खबरों के मुताबिक कुंभ मेले के क्षेत्र को 22 सेक्टरों में बांटा गया है। श्रद्धालुओं के लिए गंगा के दूसरे किनारे पर जाने के लिए पांटून पुल बनाए गए हैं। विभिन्न सेक्टरों में अलग-अलग तरह की 379 दुकानें खोली जाएंगी। सेक्टर छह से लेकर 19 तक में दुकानों की संख्या भी निर्धारित कर दी गई है। इन दुकानों का आवंटन नीलामी के जरिए किया जा रहा है। मेला क्षेत्र को पॉलीथिन मुक्त रखने के लिए दुकानदारों को सख्त हिदायत दी गई है।

कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को जरूरत का सामान खरीदने में किसी तरह की परेशानियों का सामना न करना पड़े, इसके लिए मेला प्रशासन ने विभिन्न सेक्टरों में दुकानों के लिए स्थान निर्धारित किये हैं। इन निर्धारित पूजन सामाग्री, कपड़े, बर्तन, प्रसाधन सामाग्री, हस्त शिल्प, खिलौने एवं सजावटी सामान समेत अन्य दुकानें खोली जाएंगी। एसडीएम राजीव कुमार राय का कहना है कि दुकानों के आवंटन का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है। 15 जनवरी से पहले विभिन्न सेक्टरों में दुकानों का संचालन शुरू हो जाएगा।

कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को जरूरत का सामान खरीदने में किसी तरह की दिक्कत न हो, इसके लिए मेला प्रशासन ने विभिन्न सेक्टरों में दुकानों के लिए स्थान निर्धारित किया है। इसमें पूजन सामाग्री, कपड़े, बर्तन, प्रसाधन सामाग्री, हस्त शिल्प, खिलौने एवं सजावटी सामान समेत अन्य दुकानें खोली जाएंगी। एसडीएम राजीव कुमार राय का कहना है कि दुकानों के आवंटन का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है। 15 जनवरी से पहले विभिन्न सेक्टरों में दुकानों का संचालन शुरू हो जाएगा।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से: