अमर भारती : नगर स्थित जामिया मस्जिद में कुछ नकाबपोश युवकों के आईएसआईएस के झंडे लहराने का मामला सामने आया है। शुक्रवार को राज्‍य की पूर्व मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने राज्‍य में राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की ओर से जारी अलर्ट को मानने से इनकार कर दिया था। उनके इस इनकार के ठीक बाद यह घटना हुई है। सोशल मीडिया पर शनिवार को एक वीडियो वायरल हो रहा है।

इस वीडियो में नजर आ रहा है कि कुछ युवक जामिया मस्जिद में हैंं और यहां पर वह खुलेआम सुरक्षा एजेंसियों को चुनौती देते हुए झंडा लहरा रहे हैं। इस घटना ने एक बार फिर से घाटी में मौजूद आईएसआईएस के खतरे को सामने लाकर रख दिया है।

श्रीनगर के संवेदनशील नौहट्टा इलाके में स्थित जामिया मस्जिद के इस वीडियो में झंडा लहराने के साथ भारत विरोधी नारेबाजी भी की जा रही है। इस दौरान वहां पर मौजूद लोगों ने इन नकाबपोशों को रोकने की कोशिश की। लोगों और नकाबपोशों के बीच धक्कामुक्की भी हुई।

इस वीडियो के सामने आने के बाद सुरक्षा एजेंसिया चौकन्नी हो गई हैं। मामले की छानबीन शुरू कर दी गई है। बता दें, इसी मस्जिद के बाहर दो साल पहले जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान मोहम्मद अयूब पंडित की हत्या की गई थी।

घाटी में आईएसआईएस का झंडा लहराने की यह कोई पहली घटना नहीं है। श्रीनगर में अलग-अलग हिंसा के दौरान कई बार आईएसआईएस का झंडा सुरक्षाबलों को दिखाया जाता रहा है। बीते दिनों, एनआईए ने यूपी और दिल्ली से आईएसआईएस के 10 संदिग्धों को भी गिरफ्तार किया है।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तोजुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से