अमर भारती : ऑस्ट्रेलिया के पुछल्ले बल्लेबाजों ने भारत का इंतजार जरूर लंबा करा दिया, लेकिन विराट कोहली की टीम तीसरे क्रिकेट टेस्ट में जीत से सिर्फ दो विकेट दूर है, जबकि रविवार को पूरे दिन का खेल बाकी है। गेंद से कमाल दिखाने के बाद पैट कमिंस ने नाबाद अर्धशतक बनाकर भारत को शनिवार को मैच खत्म नहीं करने दिया।

एक समय पर चाय के बाद ऑस्ट्रेलिया के सात विकेट 176 रनों पर गिर गए थे, लेकिन चौथे दिन का खेल समाप्त होने पर स्कोर आठ विकेट पर 258 रन था। पैट कमिंस 60* और नाथन लियोन 6* रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं। मेजबान टीम को जीत के लिए 141 रन की जरूरत है।

तीसरे टेस्ट के चौथे दिन टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी 37.3 ओवर में 8 विकेट पर 106 रन के स्कोर पर घोषित की। इस तरह ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 399 रन का लक्ष्य मिला। विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत पहली पारी के हीरो जसप्रीत बुमराह ने बिगाड़ी।

बुमराह ने कंगारू ओपनर आरोन फिंच (3) को कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच आउट कराया। जल्द ही रवींद्र जडेजा ने मार्कस हैरिस (13) को शॉर्ट लेग पर मयंक अग्रवाल के हाथों कैच आउट कराया। मयंक ने अच्छा कैच लपका।

लंच के बाद मोहम्मद शमी ने टीम इंडिया को तीसरी सफलता दिलाई। उन्होंने क्रीज पर जम चुके उस्मान ख्वाजा (33) को एलबीडब्ल्यू आउट किया। तीन विकेट जल्दी गिरने के बाद शॉन मार्श (44) और ट्रेविस हेड ऑस्ट्रेलियाई पारी को संभालने में जुटे।

दोनों ने चौथे विकेट के लिए 51 रन की साझेदारी की और टीम के स्कोर को 100 रन के पार पहुंचाया। दोनों ने तेजी से रन बटोरना शुरू किए ही थे कि तभी बुमराह ने शॉन मार्श को एलबीडब्ल्यू आउट करके इस साझेदारी को तोड़ दिया और टीम इंडिया को बड़ी सफलता दिलाई।

इसके बाद जडेजा ने मिचेल मार्श (10) को अपनी फिरकी के जाल में उलझाया। उन्होंने मार्श से ड्राइव लगवाई और कवर्स पर कप्तान कोहली ने आसान कैच लपका। यहां से ट्रेविस हेड 34 और कप्तान पैन ने 22 रन की साझेदारी करते हुए टी टाइम तक पारी को संभाला। चायकाल के बाद इशांत ने हेड को बोल्ड करके इस अहम साझेदारी को तोड़ा।

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पैन (26) भी टीम का संकट नहीं टाल सके और वह जडेजा के तीसरे शिकार बने। जडेजा ने पैन को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच आउट कराया। यहां से पैट कमिंस ने फिर मिचेल स्टार्क के साथ मिलकर 39 रन की साझेदारी की। शमी ने स्टार्क को बोल्ड करके इस साझेदारी को तोड़ा।

इसके बाद कमिंस ने लियोन के साथ 9वें विकेट के लिए 43 रन की अविजित साझेदारी की और मैच अंतिम दिन बढ़ाने में कामयाबी हासिल की। कमिंस ने बुमराह द्वारा किए पारी के 81वें ओवर की पांचवीं गेंद पर चौका जमाकर अपने टेस्ट करियर का दूसरा अर्धशतक पूरा किया।

टीम इंडिया की तरफ से रवींद्र जडेजा ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए। जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ने दो-दो जबकि इशांत शर्मा को एक विकेट मिला।

इससे पहले टीम इंडिया ने मेलबर्न में जारी बॉक्सिंग-डे टेस्ट के चौथे दिन अपनी दूसरी पारी 37.3 ओवर में 8 विकेट पर 106 रन के स्कोर पर घोषित की। भारतीय टीम को पहली पारी में 292 रन की बढ़त हासिल थी, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट जीतने के लिए 399 रन का मुश्किल लक्ष्य मिला।

टीम इंडिया की तरफ से मयंक अग्रवाल (42) सर्वश्रेष्ठ स्कोरर रहे। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पैट कमिंस ने घातक गेंदबाजी करते हुए 11 ओवर में तीन मेडन सहित 27 रन देकर 6 विकेट लिए।

टीम इंडिया ने चौथे दिन अपनी पारी 5 विकेट पर 54 रन से आगे बढ़ाई। मयंक अग्रवाल और ऋषभ पंत (33) ने सधी हुई शुरुआत की। दोनों ने स्कोर को 83 रन पर पहुंचाया था कि तभी कमिंस ने मयंक को क्लीन बोल्ड करके अपना पांचवां शिकार किया। अपना पहला टेस्ट खेल रहे मयंक ने 102 गेंदों में चार चौकों और दो छक्कों की मदद से 42 रन बनाए।

इसके बाद पंत और रवींद्र जडेजा (5) ने सातवें विकेट के लिए 17 रन जोड़ते हुए भारत का स्कोर 100 रन पहुंचाया। कमिंस ने इसी स्कोर पर जडेजा को ख्वाजा के हाथों कैच आउट कराकर टीम इंडिया का सातवां विकेट गिराया।

भारत ने पहली पारी में सात विकेट पर 443 रन बनाए थे। जसप्रीत बुमराह ने 33 रन देकर छह विकेट लिये थे। ऑस्ट्रेलियाई टीम 151 रन पर आउट हो गई थी। भारत ने दूसरी पारी आठ विकेट पर 106 रन बनाकर घोषित की, जिससे ऑस्ट्रेलिया को 399 रनों का लक्ष्य मिला।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तोजुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से