अमर भारती : आरजेडी अध्यक्ष तेजप्रताप यादव का कहना है कि लगता है कि तेजस्वी यादव ही बिहार के मुख्यमंत्री बनेंगे, इस बात को स्टाम्प पेपर पर लिख कर देना होगा। तेजस्वी यादव और उनके रिश्तों पर तेजप्रताप यादव ने  टृवीट कर कहा है कि ”लोगों के मुद्दे छोड़ कुर्सी पर बैठे अपने आकाओं के इशारे पर भाई – भाई में दरार की मनगढ़ंत कहानियां चलाने वाले चंद लोग कान खोलकर सुन लें. मेरी लड़ाई किसान, महिला और नौजवानों को ठगने वाली जनविरोधी सरकार से है और इनके खिलाफ जंग लड़ूंगा और इन्हें परास्त भी करूंगा. रोक सको तो रोक लो…

आपको बता दें कि लालू प्रसाद को सीबीआई द्वारा फंसाये जाने के आरोपों के विरोध में एकदिवसीय धरना कार्यक्रम पार्टी कार्यालय के बाहर आयोजित किया गया। कार्यक्रम में तेजप्रताप यादव भी मौजूद रहें। तेजप्रताप ने कहा कि लालू प्रसाद को फंसाये जाने के खिलाफ 9 जनवरी को नई दिल्ली के जंतर मंतर में होने वाले पार्टी के प्रदर्शन में शामिल रहेंगे।

विधायक और पूर्व मंत्री तेज प्रताप ने सोमवार को कहा था कि यदि पार्टी की कमान उन्हें सौंपी गई तो वह पीछे नहीं हटेंगे

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सार्वजनिक तौर पर अपनी प्रतिबद्धता बहुत पहले जताई थी। मैंने महाभारत का प्रसंग भी दिया था, मैंने बार-बार कहा भी है कि तेजस्वी अर्जुन हैं और मैं कृष्ण की भूमिका निभाऊंगा। मैं उसका पथ प्रदर्शन करूंगा।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोग भाइयों के बीच दीवार खड़ी करना चाहते हैं।

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से: