अमर भारती : पश्चिम बंगाल के तीन जिलों में रथ यात्रा के अनुमति के लिये बीजेपी द्वारा की याचिका पर शीघ्र सुनवाई से सु्प्रीम कोर्ट ने सोमवार को इंकार कर दिया। भारतीय जनता पार्टी ने अपने याचिका में कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेश को चुनौती दी है। भाजपा के द्वारा दायर कि गई याचिका से जुड़े वकील ने कहा कि उन्हें शीर्ष अदालत की रजिस्ट्री ने सूचित किया है कि यह प्रकरण सामान्य प्रक्रिया में ही सूचीबद्ध किया जायेगा।

न्यायलय शीतकालीन अवकाश की वजह से एक जनवरी तक बंद है। भाजपा ‘लोकतंत्र बचाओ’ अभियान के तहत ये रथ यात्रायें आयोजित करना चाहती है। 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी इस रथ यात्रा के जरिए पश्चिम बंगाल के 42 संसदीय क्षेत्रों में पहुंचने का प्रयास कर रही है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बंगाल के कूच बिहार जिले से सात दिसंबर को इस रथ यात्रा की शुरूआत करने वाले थे। इसके बाद यह रथयात्रा 9 दिसंबर को दक्षिणी 24 परगना के काकद्वीप और 14 दिसंबर को बीरभूम में तारापीठ मंदिर से शुरू होनी थी।

यह भी देखें- 

यदि आप पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते है तो, जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से: