अमर भारती : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य सचिवालय में बड़ा बयान देते हुए कहा की विपक्ष के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार की चर्चा 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों के बाद ही हो सकती है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा की एक बार जब विपक्षी गठबंधन जीत जाएगा तो सभी पार्टियां इस मामले पर फैसला लेंगी।

ममता बनर्जी का ये बयान डीएमके अध्यक्ष एम के स्टालिन के बयान के बाद आया है। चेन्नई में विपक्ष के कार्यक्रम में स्टालिन ने राहुल गांधी को विपक्ष के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार घोषित करने का प्रस्ताव पेश किया था। साथ ही स्टालिन ने कहा था, की राहुल गांधी के अंदर मोदी सरकार को हराने की क्षमता है।

हम सभी को उनका साथ देना चाहिए और देश को बचाने में उनकी मदद करनी चाहिए।तो वहीं ममता बनर्जी, सपा, तेलुगू देशम पार्टी, बसपा, और एनसीपी राहुल गांधी के नाम पर सहमत नही है। सभी का ये कहना की पीएम पद के उम्मीदवार का निर्णय लोकसभा चुनावों के बाद ही होगा।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-