अमर भारती : राजस्थान विधानसभा चुनाव में शुक्रवार को मतदान के बाद आए एक्जिट पोल में कांग्रेस की सत्ता में वापसी होती दिख रही है। गौरतब है कि नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे, लेकिन उससे पहले मुख्यमंत्री बनने को लेकर लॉबिंग शुरू हो गई है।

एक्जिट पोल के मुताबित आए नतीजों से कांग्रेस नेता काफी उत्साहित हैं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट कैंप और पार्टी महासचिव अशोक गहलोत गुट के लोग अंदर खाने अपने-अपने नेता को सीएम बनाने की रणनीति में जुट गए हैं।

राजस्थान विधानसभा चुनाव में सभी एक्जिट पोल ने कांग्रेस को पूर्ण बहुमत दिखाया है। ऐसे में अब राजस्थान कांग्रेस में कौन बनेगा सीएम इसको लेकर रस्साकशी शुरू हो गई है। अंदर खाने ही विधायक दल की बैठक में कौन किसका समर्थन करेगा इसे लेकर दोनों गुट सक्रिय हो गए हैं।

जयपुर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष और सिविल लाइन विधानसभा से चुनाव लड़ रहे प्रताप सिंह खाचरियावास तो खुलकर सचिन पायलट के सीएम बनाने के पक्ष में हैं। खाचरियावास ने कहा कि 5 सालों तक जिस नेता ने संघर्ष किया है, सीएम का पद उसे ही मिलना चाहिए।

उनके मुताबिक सचिन पायलट कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद से लगातार सक्रिय हैं और उन्होंने वसुंधरा राजे के खिलाफ संघर्ष किया है। ऐसे में सचिन पायलट को सीएम बनना चाहिए।

बता दें कि इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक राजस्थान में बीजेपी को करारी मात मिलती दिख रही है। सूबे की कुल 200 विधानसभा सीटों में कांग्रेस के खाते में 119 से 141 सीटें जाती दिख रही हैं। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में बीजेपी को 55 से 72 सीटें मिल सकती हैं। जबकि 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 163 सीटें हासिल हुई थीं।

यही नहीं, बाकी आए एक्जिट पोल में भी बीजेपी की हार दिख रही है। कांग्रेस को सभी ने स्पष्ट बहुमत दिया है। ऐसे कांग्रेस में सीएम को लेकर सचिन पायलट और अशोक गहलोत दो मजबूत दावेदार हैं। ऐसे में दोनों के समर्थक अपने-अपने नेता के लिए पिच तैयार करने लगे हैं।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here