अमर भारती : भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला एडिलेड ओवल मैदान में खेला जा रहा है। पहली पारी में कंगारू गेंदबाजों की सधी गेंदबाजी की बदौलत टीम इंडिया मात्र 250 रन ही बना सकी। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने भी अपना दमखम दिखाते हुए ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 235 रन पर समेट दिया।

भारत को पहली पारी के आधार पर 15 रनों की बढ़त मिल गई। दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक 3 विकेट गंवा कर 151 रन बना लिए हैं। अजिंक्य रहाणे (1 रन) और चेतेश्वर पुजारा (40 रन) क्रीज पर हैं।

ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 235 रनों पर समाप्त करने के बाद भारत ने अपनी दूसरी पारी की अच्छी शुरुआत की। केएल राहुल (44) और मुरली विजय (18) ने पहले विकेट के लिए 63 रन जोड़े, लेकिन मिशेल स्टार्क ने इस साझेदारी को मजबूत नहीं होने दिया और विजय को पीटर हैंडसकॉम्ब के हाथों कैच आउट करा भारत को दिन का पहला झटका दिया।

इसके बाद राहुल ने पुजारा के साथ 13 रन ही जोड़े थे कि जोश हेजलवुड ने राहुल को विकेट के पीछे खड़े टिम पेन के हाथों कैच आउट करा भारत का दूसरा विकेट भी गिरा दिया। उसके बाद क्रिज पर कप्तान विराट कोहली आए। पुजारा ने कोहली के साथ तीसरे सत्र में 71 रनों की साझेदारी कर टीम को 147 के स्कोर तक पहुंचाया।

तीसरे दिन का खेल समाप्त होने से ठीक पहले नाथन लियोन ने कोहली (34) को एरॉन फिंच के हाथों कैच आउट करा भारत का तीसरा विकेट गिराया। इस पारी में ऑस्ट्रेलिया के लिए मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और नाथन लियोन ने एक-एक विकेट हासिल किया।

इसके बाद पुजारा ने दिन का खेल समाप्त होन तक रहाणे के साथ टीम को 151 के स्कोर तक पहुंचाया। फिलहाल भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 166 रनों की बढ़त हासिल कर ली है। लेकिन मैच में बने रहने के लिए टीम इंडिया को 350 रनों का लक्ष्य देना होगा।

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-